प्रियंका गांधी की राजनीति में एंट्री, राहुल बोले – चुनाव लड़ने का खुद लेंगी फैसला

6:54 pm Published by:-Hindi News

नई दिल्ली: प्रियंका गांधी के कांग्रेस महासचिव नियुक्त होने की घोषणा के बाद कांग्रेस कार्यकर्ताओं में जश्न का माहौल है। प्रियंका गांधी की राजनीति में एंट्री को लेकर उनके भाई और कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि प्रियंका गांधी और ज्योतिरादित्य को मैंने सिर्फ दो महीने के लिए जिम्मेदारी नहीं दी है। मैंने मिशन दिया है कि कांग्रेस की विचारधारा का प्रचार करें। दोनों उत्तर प्रदेश में काम करेंगे। जो उत्तर प्रदेश में युवा को चाहिए उसे पूरा करेंगे।

राहुल गांधी ने कहा कि प्रियंका के आने से उत्तर प्रदेश में एक नए तरीके की सोच आएगी और राजनीति में बदलाव भी आएगा। प्रियंका को कांग्रेस में यह जिम्मेदारी दिए जाने से बीजेपी के लोग कुछ घबराए हुए हैं। उन्होने कहा कि मेरी बहन कर्मठ है और हम मिलकर काम करेंगे, उन्होंने प्रियंका के चुनाव लड़ने पर कहा कि बहन बहुत कर्मठ है, चुनाव लड़ने पर वह फैसला लेंगी।

प्रियंका की कांग्रेस में एंट्री पर बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा ने कहा कि कांग्रेस में आज एक और राज्याभिषेक हुआ है। साबित हो गया कि राहुल गांधी फेल हो गए हैं इसलिए प्रियंका वाड्रा को लाया गया है। यही अंतर है कि कांग्रेस में परिवार ही पार्टी और बीजेपी में पार्टी ही परिवार है। नया भारत आज सवाल पूछ रहा है की आजादी के सत्तर साल बाद भी क्या एक ही परिवार को कांग्रेस आगे बढ़ाती रहेगी?

वहीं केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने गांधी परिवार पर निशाना साधते हुए कहा कि कांग्रेस खानदान और पानदान की पार्टी है। कांग्रेस मां-बेटी, दामाद और सास की पार्टी है, यह भाई-बहन की पार्टी है। इसके आगे की पार्टी नहीं है। वहीं जेडीयू प्रवक्ता केसी त्यागी कहना है कि इससे एनडीए पर इसका ज्यादा असर नहीं पड़ेगा, लेकिन  समाजवादी पार्टी और बहुजन समाजवादी पार्टी के रिश्तों पर बुरा असर जरूर पड़ेगा।

खानदानी सलीक़ेदार परिवार में शादी करने के इच्छुक हैं तो पहले फ़ोटो देखें फिर अपनी पसंद के लड़के/लड़की को रिश्ता भेजें (उर्दू मॅट्रिमोनी - फ्री ) क्लिक करें