Wednesday, January 26, 2022

राज्यसभा में सोमवार को होगा तीन तलाक बिल पेश, कांग्रेस ने कहा – नहीं होने देंगे पास

- Advertisement -

नई दिल्ली. तीन तलाक से जुड़ा नया विधेयक 31 दिसंबर को राज्यसभा में पेश किया जाएगा। कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद मुस्लिम महिला (विवाह अधिकार संरक्षण) विधेयक पेश करेंगे।
हालांकि,  कांग्रेस ने तीन तलाक बिल को राज्यसभा में पारित नहीं होने देने की घोषणा की है।

कांग्रेस के महासचिव केसी वेणुगोपाल ने साफ-साफ कहा है कि कांग्रेस इस बिल को राज्यसभा में पास नहीं होने देगी। शनिवार को पत्रकारों से बात करते हुए वेणुगोपाल ने कहा कि इस विधेयक को मौजूदा रूप में पास होने से रोकने के लिए कांग्रेस उन सभी पार्टियों से हाथ मिलाएगी, जिनके साथ मिलकर इसको गिराया जा सके।

उन्होंने बताया कि लोकसभा में जब यह विधेयक पेश किया गया, तब 10 विपक्षी पार्टियां खुलकर एक साथ आई थीं। यहां तक कि कई मुद्दों पर सरकार का समर्थन करने वाली अन्नाद्रमुक और तृणमूल कांग्रेस ने भी इसका विरोध किया।

talak

वेणुगोपाल ने बिल की आलोचना करते हुए कहा कि तत्काल तीन तलाक एक दीवानी मामला है। इसके लिए अपराधियों की तरह कठोर दंड का प्रावधान किया गया है, जो कांग्रेस समेत विपक्षी पार्टियों को मंजूर नहीं है। यह बिल महिलाओं का सशक्तीकरण नहीं करेगा।

अलप्पुझा के सांसद वेणुगोपाल ने कहा कि 2017 में सरकार ने ऐसा ही विधेयक लोकसभा से पारित करा लिया था। लेकिन, कठोर प्रावधान होने के कारण उसे राज्यसभा में आगे नहीं बढ़ा पाई थी। यही कारण है कि सरकार अध्यादेश लेकर आई और लोकसभा में फिर से बिल को पेश किया। लेकिन, कांग्रेस मौजूदा स्वरूप में बिल को राज्यसभा से पारित कराने का विरोध करेगी।

कांग्रेस ने आरोप लगाया है कि 2019 के आम चुनाव को देखते हुए सरकार ने इस बिल को लोकसभा में पास कराने की जल्दबाजी की है। कांग्रेस का कहना है कि इस बिल के प्रावधान संविधान तथा मौलिक अधिकारों के खिलाफ हैं।



- Advertisement -

[wptelegram-join-channel]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles