tri

त्रिपुरा के सीएम बिप्लब देब लगातार अपने विवादित बयानों को लेकर सुर्ख़ियों में छाए हुए है. उन्होंने अब युवाओं को नोकरी की बजाय पान की दुकान खोलने का मशवरा देकर बवाल खड़ा कर दिया है.

शनिवार को सीएम बिप्लब देब ने राज्य के युवाओं, विशेष रूप से शिक्षित वर्ग के युवाओं को सरकारी नौकरियों के लिए राजनेताओं के पीछे नहीं भागने का सुझाव दिया उन्होंने पान की दुकान खोलने की सलाह देते हुए कहा कि राज्य के युवा सरकारी नौकरी पाने के लिए सालों तक राजनैतिक पार्टियों के पीछे भागते रहे और अपने जीवन के इतने साल बर्बाद कर दिए. उन्होंने आगे कहा, अगर यही युवा इस दौरान पान की एक दुकान खोल लेते तो उनके बैंक बैलेंस में 5 लाख रुपए होते.

बिप्लब देब ने पीएम मोदी की मुद्रा योजना का हवाला देते हुआ कहा कि सरकार युवाओं को बैंक लोन की सुविधा दे रही है, जिससे वह कोई रोजगार कर सम्मानित जिंदगी जी सकते हैं. देब ने आगे कहा कि एक बेरोजगार युवा बैंक से 75000 तक का लोन ले सकता है और थोड़ा खुद से कोशिश कर आराम से महीने के 25000 रुपए तक कमा सकता है.

उन्होंने आगे कहा, लेकिन त्रिपुरा के लोगों में पिछले 25 सालों में एक सोच पैदा हो गई है कि स्नातक युवा अगर खेती करेगा, पॉल्ट्री स्टार्ट करेगा तो इससे उसकी क्लास नीची हो जाएगी, जो कि गलत है.

ध्यान रहे इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के युवाओं को पकोड़े बेचने की सलाह देने वाले बयान पर जमकर हंगामा मचा था. देश के कई हिस्सों में डिग्रीधारियों ने पकोड़े बेचकर मोदी के बयान का विरोध किया था.

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?