asaduddin owaisi 750x460

हैदराबाद/बेंगलुरु: कर्नाटक में बुधवार को जेडीएस और कांग्रेस पार्टी की सरकार बन गई. इस दौरान मोदी विरोधी पूरा विपक्ष एक मंच पर नजर आया. लेकिन एक शख्स था जो इस समारोह में शामिल नहीं हुआ. वह थे आल इंडिया मजलिस ए इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी.

बता दें कि ओवैसी ने जेडीएस के समर्थन में न केवल कर्नाटक चुनाव में अपने उम्मीदवार न उतारे थे बल्कि उन्हें अपना समर्थन देते हुए बड़ी जोरो से प्रचार करते हुए नजर भी आए थे. ऐसे में सवाल उठ रहा है कि आखिर ओवैसी शपथ ग्रहण से गायब क्यों रहे.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

बताया जा रहा है कि ओवैसी पिछले कई दिन से देश से बाहर हैं. जिसकी वजह से वे शपथ ग्रहण में शामिल नही हो पाए. हालांकि कर्नाटक चुनाव नतीजों के ऐलान के बाद  ही औवैसी ने कुमारस्वामी को मुख्यमंत्री बनने की मुबारकबाद दे दी थी.

ओवैसी ने ट्वीट करके लिखा था, ‘मैंने एचडी कुमारस्वामी से बात की और उनकी पार्टी को जीत के लिए बधाई दी. मुझे पूरा भरोसा है कि बतौर सीएम संवैधानिक जिम्मेदारी को बेहतर तरीके से निभाएंगे.’

बता दें कि कुमारस्वामी की ताजपोशी में यूपीए की चेयरपर्सन सोनिया गांधी, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी, बसपा प्रमुख मायावती, सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव, सीपीएम महासचिव सीताराम येचुरी, टीएमसी प्रमुख ममता बनर्जी, टीडीपी अध्यक्ष चंद्रबाबू नायडू, एनसीपी प्रमुख शरद पवार, आरएलडी अध्यक्ष अजीत सिंह, आरजेडी नेता तेजस्वी यादव और सीपीआई के डी. राजा सहित विपक्ष के सभी नेता मौजूद थे.