जम्मू-कश्मीर के कठुआ जिले में 8 साल की बच्ची आसिफा के साथ मंदिर में लगातार तीन दिन सामूहिक बलात्कार कर पत्थरों से कुचल कर हत्या कर देने के मामले में महबूबा कैबिनेट के बीजेपी मंत्रियों की और से बलात्कारियों के समर्थन पर पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्लाह भड़क उठे है.

उमर अब्दुल्लाह ने मुफ्ती के ट्वीट पर जवाब देते हुए कहा “मुफ्ती नाराजगी क्यों जता रही हैं वे दोनों मंत्री उनकी ही सरकार से है तो नाराजगी जताने के बजाए उन्हें हटा सकती है”

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

बता दें कि बीजेपी के दो वरिष्ठ मंत्री लाल सिंह और चंद्र प्रकाश गंगा का बलात्कारी हैवानों को शुरू से ही समर्थन रहा है. दोनों ही नेता 1 मार्च को आरोपियों के समर्थन में हिंदू एकता मंच की रैली भी निकाल चुके है.

इसके अलावा बीजेपी सांसद जितेंद्र सिंह बलात्कारियों के सबंध में कह चुके है कि उन्होंने कुछ भी गलत नहीं किया है, उन्हें इंसाफ दिया जाना चाहिए. साथ ही उन्होंने सीबीआई जांच की भी मांग की.

हालांकि इस मामले में अब मुख्यमंत्री महबूबा मुफ़्ती ने कहा, कुछ गैर-जिम्मेदार लोगों की वजह से कानून व्यवस्था में कोई व्यवधान नहीं आएगा. मामले की जांच पड़ताल चल रही है और न्याय जल्द ही हो जाएगा.

Loading...