naimul

नूरपुर उपचुनाव में जीत सपा के नईमुल हसन ने बीजेपी प्रत्याशी अवनी सिंह को 6211 वोटों से हराया है. अवनी सिंह बीजेपी विधायक लोकेंद्र चौहान की पत्नी है. जिनके निधन के  बाद ये सीट खाली हुई थी. लोकेंद्र चौहान की मौत फरवरी में कार हादसे में हो गई थी.

अपनी जीत को लेकर नईमुल हसन ने कहा कि 2019 के लोकसभा चुनावों तक बीजेपी का सफाया हो जाएगा. उन्होंने कहा कि हमारा चुनाव भारतीय जनता पार्टी से था. इस दौरान कई जगह ईवीएम खराब होने की खबरें आई. रमजान के महीने के कारण मुस्लिम मतदाता कम निकल कर आए, लेकिन फिर भी उनके सहयोग से हमारी पार्टी को विजय प्राप्त हुई.

बता दें कि नूरपुर और कैराना में जीत के लिए बीजेपी ने नेताओं और मंत्रियों की फौज खड़ी कर दी थी. प्रधानमंत्री से लेकर मुख्यमंत्री तक चुनाव प्रचार में जुटे थे. बावजूद दोनों ही सीटों से बीजेपी को करारी हार मिली है.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

bjp2 kvwe 621x414@livemint

सपा ने नूरपुर विधानसभा में अपने प्रत्याशी नईमुल हसन को उतारा. कैराना लोकसभा सीट से सपा ने रालोद प्रत्याशी तबस्सुम हसन को समर्थन दिया था. तबस्सुम हसन पहले सपा में थी. बाद में उन्होंने रालोद का दामन थाम लिया और उन्हें गठबंधन प्रत्याशी के तौर पर मैदान में उतारा गया.

तबस्सुम हसन ने 50 हजार मतों से बीजेपी प्रत्याशी मृगांका सिंह को हराया है. बीजेपी सांसद हुकुम सिंह के फरवरी में निधन के कारण कैराना सीट पर उपचुनाव हुए. अब सिंह की पुत्री मृगांका सिंह यहां से बीजेपी प्रत्याशी हैं.