2007 के मक्का मस्जिद बम ब्लास्ट केस में शामिल आतंकियों को ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुसलमीन (एआईएमईएम) के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने गोडसे की नाजायज औलाद करार दिया है.

तेलंगाना के सैदाबाद इलाके में एक जनसभा को संबोधित करते हुए ओवैसी ने कहा, “आतंकवाद खुद में नया धर्म बन गया है. वे सभी लोग जिन्होंने मस्जिद, अजमेर शरीफ और समझौता एक्सप्रेस में धमाके किए थे, सभी नाथू राम गोडसे की अवैध संतानें हैं.”

इस दौरान ओवैसी ने बीजेपी को भी निशाने पर लिया. ओवैसी ने भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) पर पीड़ितों की जगह आरोपियों का पक्ष लेने का आरोप लगाते हुए कहा, ‘यह पहली ऐसी सरकार है इस देश में जिसकी वफादारी बम धमाके के आरोपियों के साथ है, न कि पीड़ितों के साथ जिनकी जान चली गई थी.’

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

mecca

ओवैसी ने एनआईए की भूमिका पर भी तंज कसा. उन्होंने कहा, “लोग कहते हैं कि एनआईए पिंजड़े में बंद तोता है, लेकिन मेरे लिए एनआईए ऐसा तोता है जो पिंजड़े में बंद होने के साथ अंधा और गूंगा भी है.”

ओवैसी ने कहा कि वे जल्द ही आंध्र प्रदेश और तेलंगाना के गर्वनर ईएसएल नरसिम्हन से मुलाकात करेंगे और उन्हें इस केस से जुड़े हुए सभी तथ्यों से अवगत करवाएंगे.  साथ ही, उन्होंने मामले में पीड़ित परिवारों को एनआईए के विशेष कोर्ट के फैसले के खिलाफ अपील करने पर आर्थिक मदद देने का वादा भी किया.

Loading...