rabri devi xl 101117083457

उपचुनाव में अररिया लोकसभा सीट पर राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) के उम्मीदवार सरफराज आलम की जीत को लेकर बीजेपी नेता गिरिराज सिंह द्वारा दिए गए बयान को लेकर आरजेडी नेता राबड़ी देवी ने कड़ा पलटवार किया है.

बिहार की पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी ने कहा कि पूर देश के आतंकवादी बीजेपी के दफ्तर में बैठते हैं. उन्होंने कहा, जनता ने जवाब दे दिया है, इसलिए बौखलाए हुए हैं, बिहार और उत्तर प्रदेश की जनता रास्ता दिखा रही है. जुबान को वश में रखें, अररिया की जनता से माफी मांगे, वरना 2019 में जनता माफ नहीं करेगी.’

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

विवादित बयान को लेकर एनडीए से अलग हुए जीतन राम मांझी ने कहा, ‘सरकार से अनुरोध है कि किसी प्रकार की बात नहीं हो, सरकार एहतियात बरते. वहां पर सिर्फ मुसलमान ही तो नहीं रह रहे हैं, अनुसुचित जाति सहित और भी जाति के लोग रह रहे हैं. वहां कहां ISIS का गढ़ हा गया है?’

इसके अलावा तेजस्वी यादव ने भी गिरिराज सिंह पर हमला बोला है. उन्होंने कहा, “यह शख्स केन्द्र मंत्री है लेकिन दुर्भाग्य से वह यह नहीं जानते हैं कि बिहार और दिल्ली में उनकी ही सरकार है, यदि वह और बीजेपी नीतीश कुमार के नेतृत्व में विश्वास नहीं करते हैं तो वह उनसे समर्थन वापस लेने को क्यों नहीं कहते हैं, यह नीतीश कुमार के लिए बेहद शर्म की बात है.”

बता दें कि भाजपा नेता गिरिराज सिंह ने विवादित बयान देते हुए सरफराज आलम की जीत पार कहा कि “अररिया केवल सीमावर्ती इलाका नहीं है. यह केवल नेपाल और बंगाल से जुड़ा नहीं है. एक कट्टरपंथी विचारधारा को उन्होंने जन्म दिया है. वह आतंकवादियों का गढ़ बनेगा.” उन्होंने कहा, “यह न केवल बिहार के लिए खतरा है बल्कि पूरे देश के लिए खतरा है. यह आतंक का गढ़ बन जाएगा.”

Loading...