भाजपा की सहयोगी पार्टी शिवसेना ने मोदी सरकार को ललकारा है. शिवसेना सांसद संजय राउत ने लेख में लिखा कि अगर एनडीए सरकार की रगों में विशुद्ध हिंदू रक्त मौजूद है तो वीर सावरकर को भारत रत्न से सम्मानित करे.

शिवसेना ने चुनौती देते हुए कहा कि अगर सरकार ऐसा नहीं कर सकती तो उसे यह घोषित कर देना चाहिए कि वह हिन्दुत्व के नाम का इस्तेमाल सिर्फ राजनीति के लिए करती है.

राउत ने एक लेख में कहा है कि बीजेपी की एनडीए सरकार देश भर के तमाम कार्यालयों में भारतीय जनसंघ के संस्थापक दीनदयाल उपाध्याय की तस्वीर लगाती है लेकिन सावरकर के लिए कोई स्थान नहीं है. इस लेख में राउत ने कहा है कि सरकार को सावरकर के लिए भारत रत्न की घोषणा करनी चाहिए या फिर घोषणा कर देनी चाहिए कि हिंदुत्व केवल राजनीति के लिए है.

राउत ने कहा कि अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय में पाकिस्तान के संस्थापक मोहम्मद अली जिन्ना की तस्वीर के बाद विवाद उठा और अब जिन्ना की तस्वीर हटाने के बाद कुछ मुस्लिम संगठन अब दफ्तरों से सावरकर की फोटो हटाने की मांग भी उठा रहे हैं. राउत ने आगे कहा कि फोटो हटाने की मांग करना ही हिंदुत्व नायक सावरक की जीत है.

शिवसेना की मांग को कुछ लोग आने वाले लोकसभा चुनाव से जोड़कर देख रहे हैं। माना जा रहा है कि हिंदू वोटर्स को लुभाने के लिए ये बयान दिया गया है. हालांकि, इस मुद्दे पर अभी तक भाजपा की ओर से कोई बयान नहीं आया है.

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?