पश्चिम बंगाल में रामनवमी के मौके पर हुई हिंसा के बाद अचानक से अपने विवादित बयानों को लेकर सुर्ख़ियों में आए बीजेपी सांसद बाबुल सुप्रियो की चौतरफा आलोचना हो रही है. उन्हें अब हिंसा में अपने 16 साल के बेटे को खोने वाले इमाम मौलाना इम्दादुल रशीदी से सबक लेने की नसीहत दी जा रही है.

इसी बीच अब चमड़ी उधेड़ने की धमकी देने वाले बाबुल सुप्रियो से इमाम मौलाना इम्दादुल रशीदी मिलने की ख्वाहिश जाहिर की है. सुप्रियो ने ट्वीट कर कहा, ‘मैं इमाम साहब को सैल्यूट करता हूं और उम्मीद करता हूं कि किसी के द्वारा जज किए बगैर, वोट की राजनीति करने का आरोप मेरे ऊपर लगाए जाने के बगैर, एक दिन आपसे जरूर मुलाकात कर सकूं. हम लोगों में से कोई भी आपके दुख का अंदाजा नहीं लगा सकता, आप जिस पीड़ा से गुजर रहे हैं, उसके बारे में कोई कल्पना भी नहीं कर सकता, लेकिन मुझे आपके विचारों से बहुत प्रेरणा मिली. मैं आपको सलाम करता हूं.’

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

imdadul rashidi imam asansol 650x400 71522412672 640x398

बता दें कि अपने बेटे के जनाजे में लोगों को संबोधित करते हुए मौलाना इम्दादुल रशीदी ने कहा था कि अगर किसी भी शख्स ने बदले की बात की वह मस्जिद की इमामात और शहर छोड़कर चले जाएंगे. उन्होंने कहा कि वह नहीं चाहते कि कोई और बाप भी अपना बेटा खोए.

सिबतुल्ला को दफनाने के दौरान मौलाना ने कहा, ‘मैं शांति चाहता हूं. मेरा बेटा तो मर गया, लेकिन मैं नहीं चाहता कि आपके परिवार के साथ ऐसा हो. मैं नहीं चाहता कि कोई और घर जले. अगर कोई बदला लेगा तो मैं आसनसोल छोड़ दूंगा.’

Loading...