babul supriyo 640x400 81518075347

केंद्रीय मंत्री और मशहूर सिंगर बाबुल सुप्रियो ने इंडिया टुडे के ‘कर्नाटक पंचायत’ कार्यक्रम में बीजेपी पर लग रहे हिंदुत्व को थोपने के आरोपों को नकारते मैं बंगाल में पला-बढ़ा हूं. मैं इमामबाड़े के पास रहा हूं. मैंने कॉलेज के दिनों में बीफ खाया है. मेरे कई पाकिस्‍तानी दोस्‍त हैं.मुस्लिमों के त्‍योहारों में मैंने खुशियां भी मनाई हैं.’

उन्होंने कहा, “मेरे बारे में शायद ये बात नहीं जानते होंगे कि मैं पूजा-पाठ में विश्वास नहीं करता. लेकिन मुझे याद है बचपन में मेरी दादी मुझे मस्जिद ले जाया करती थीं. वो नजर उतारने के लिए ऐसा करती थीं.”

बाबुल ने कहा, “मैं यह नहीं कह सकता कि मैं कभी मंदिर नहीं गया या फिर मस्जिद नहीं गया. लेकिन अब मेरे घर में किसी तरह के धार्मिक अनुष्ठान नहीं होते.” बाबुल ने बताया, “कॉलेज के दिनों में मैंने बीफ भी खाया है.”

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

beef biryani

उन्होंने कार्यक्रम में आगे कहा, ‘धार्मिक सहिष्‍णुता का मतलब यह नहीं है कि मैं अपने धर्म का आदर न करूं. अगर मैं ही अपने धर्म का सम्‍मान नहीं करूंगा तो दूसरा कोई क्‍यों करेगा?’

बता दें कि पश्चिम बंगाल में हिंसाग्रस्त क्षेत्रों के दौरान बाबुल सुप्रियो ने गुरुवार को कुछ लोगों को चमड़ी उधेड़ने तक की धमकी दी थी. उन्होंने ये धमकी उस वक्त दी थी जब उनका भीड़ ने आने का विरोध किया था. हालांकि उनका कहना है कि उन्होंने टीएमसी कार्यकर्ताओं से ऐसा कहा था.

Loading...