Wednesday, October 20, 2021

 

 

 

इवांका ट्रंप के रॉयल वेलकम पर बोली कांग्रेस – वह कोई राष्ट्राध्यक्ष नहीं, जो मोदी ने दिया डिनर

- Advertisement -
- Advertisement -

iv

पहली बार भारत आईं अमेरीकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की बेटी इवांका ट्रंप के ‘रॉयल वेलकम’ पर कांग्रेस समेत विपक्षी पार्टियों ने सवाल खड़े कर दिए. ये सवाल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के प्रोटोकॉल तोड़े जाने को लेकर किये.

दरअसल, खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने प्रोटोकॉल तोड़ते हुए इवांका के सम्मान में शाही डिनर रखा. साथ ही इवांका को ऐसी सुरक्षा दी गई, जो किसी देश के राष्ट्राध्यक्ष को दी जाती है. इवांका की सुरक्षा के लिए तेलंगाना की एलीट ग्रेहाउंड (एंटी नक्सल फोर्स) और स्नाईपर्स ऑक्टोपस (एंटी टेरर) कमांडो की टीम तैनात की गई.

एयरपोर्ट से माधापुर स्थित होटल तक जाने के लिए इवांका के साथ 34 गाड़ियों का काफिला था. इवांका के स्वागत के लिए खासतौर पर इंडोनेशिया, बैंकॉक और बेंगलुरु से खास फूल मंगवाए गए थे. इसके अलावा उनके लिए स्पेशल डिश तैयार करने के लिए ताज होटल के एक्सपर्ट शेफ को बुलाया गया था. ऐसा आमतौर पर किसी राष्ट्राध्यक्ष के दौरे पर किया जाता है.

कांग्रेस प्रवक्ता दीपेंद्र हुड्डा ने कहा कि यदि प्रधानमंत्री चाहते तो वह इवांका ट्रंप को दिल्ली में निजी तौर पर भोज दे सकते थे, जहां अमेरिकी राष्ट्रपति की सलाहकार आ सकती थीं. उन्होंने कहा कि इवांका कोई राष्ट्राध्यक्ष नहीं हैं, जबकि मोदी सबसे बड़े लोकतंत्र के प्रधानमंत्री हैं.

कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा, ‘यह देश के स्वाभिमान से जुड़ा मामला है.’ हुड्डा ने कहा कि जब खुद पीएम मोदी इवांका के लिए रात्रि भोज दे रहे हों तो विदेश मंत्री सुषमा स्वराज शायद इस बात पर हैरत जता रही होंगी कि वह हैदराबाद में क्या कर रही हैं.

उन्होंने कहा कि हालांकि भारत इवांका ट्रंप का स्वागत करता है, लेकिन वह राष्ट्राध्यक्ष नहीं हैं, इसलिए प्रधानमंत्री द्वारा उन्हें रात्रि भोज दिए जाने पर सवाल खड़ा होता है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles