Monday, September 20, 2021

 

 

 

गोडसे को देशभक्त बताने पर बोले मोदी – साध्वी प्रज्ञा को मन से माफ नहीं कर पाऊंगा

- Advertisement -
- Advertisement -

राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के हत्यारे नाथूराम गोडसे को देशभक्त बताने पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने शुक्रवार को कहा कि प्रज्ञा ने माफी मांग ली है, लेकिन मैं अपने मन से उन्हें माफ नहीं कर पाऊंगा।भारतीय जनता पार्टी के आधिकारिक ट्विटर अकाउंट से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का बयान जारी किया गया।

प्रधानमंत्री ने कहा है कि महात्मा गांधी और नाथूराम गोडसे को लेकर जो भी बातें की गईं हैं, वो भयंकर खराब हैं। PM मोदी ने दो टूक कहा कि ये बातें पूरी तरह से घृणा के लायक हैं, सभ्य समाज के अंदर इस प्रकार की बातें नहीं चलती हैं। पीएम मोदी ने कहा कि भले ही इस मामले में उन्होंने (साध्वी प्रज्ञा, अनंत हेगड़े) माफी मांग ली हो, लेकिन मैं अपने मन से उन्हें कभी भी माफ नहीं कर पाऊंगा।

वहीं बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह की ओर से ट्वीटर में दिए गए बयान में कहा गया है, ‘विगत 2 दिनों में श्री अनंतकुमार हेगड़े, साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर और श्री नलीन कटील के जो बयान आये हैं वो उनके निजी बयान हैं, उन बयानों से भारतीय जनता पार्टी का कोई संबंध नहीं है। लेकिन इसके आगे अमित शाह ने कहा है कि इन लोगों ने अपने बयान वापिस लिए हैं और माफ़ी भी मांगी है। फिर भी सार्वजनिक जीवन तथा भारतीय जनता पार्टी की गरिमा और विचारधारा के विपरीत इन बयानों को पार्टी ने गंभीरता से लेकर तीनों बयानों को अनुशासन समिति को भेजने का निर्णय किया है।’ तीसरे आखिरी ट्वीट में अमित शाह ने कहा, ‘अनुशासन समिति तीनों नेताओं से जवाब मांगकर उसकी एक रिपोर्ट 10 दिन के अंदर पार्टी को दे, इस तरह की सूचना दी गयी है’।

गौरतलब है कि देवास लोकसभा सीट पर 19 मई को होने वाले चुनाव के लिए भाजपा प्रत्याशी महेन्द्र सोलंकी के समर्थन में आगर मालवा में रोड शो कर रही प्रज्ञा ने एक सवाल के जवाब में स्थानीय न्यूज चैनल से बृहस्पतिवार को कहा था, ‘‘नाथूराम गोडसे देशभक्त थे, हैं और रहेंगे। गोडसे को आतंकी बोलने वाले खुद के गिरेबान में झांक कर देखें। अबकी बार चुनाव में ऐसा बोलने वालों को जवाब दे दिया जाएगा।’’ हालांकि, इसके बाद उन्होंने अपने इस बयान पर देश के लोगों से माफी मांग ली थी।

इस मामले में कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा है कि भाजपा एवं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर तीखा हमला बोला और आरोप लगाया कि मोदी सरकार ने देश की अस्मिता के खिलाफ ”गुरिल्ला युद्ध” छेड़ रखा है। सुरजेवाला ने संवाददाताओं से कहा, ”ऐसा लगता है कि मोदी सरकार ने भारत के स्वतंत्रता सेनानियों और इतिहास पुरुषों के खिलाफ़ एक छद्म युद्ध छेड़ रखा है। रोज़ नया मुखौटा लगाकर एक मोदी अनुयायी आता है और भारत की आत्मा ‘महात्मा’ को अपमानित कर जाता है।”

उन्होंने दावा किया, ”यह एक प्रकार से भारत की अस्मिता के खिलाफ़ मोदी सरकार का गुरिल्ला युद्ध है।” सुरजेवाला ने कहा, ”महात्मा गांधी ने कहा था- “मैं यह मानता हूँ और मेरा यह अनेक बार का अनुभव है कि कोई व्यक्ति अपने आप को कितना भी योग्य क्यों न कहे ,उसके गुप्त अनीतिपूर्ण कृत्य एक दिन उजागर हो ही जाते हैं।” गांधी जी के उक्त विचार लगता है मोदी- शाह की जोड़ी के लिए ही कहे गए हों।” उन्होंने दावा किया, ”मोदी – शाह की जोड़ी प्रचार में गांधी और विचार में गोडसेवादी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles