पीएम मोदी को पता ही नहीं युवा आबादी का फायदा कैसे उठाया जाए: ओवैसी

1:06 pm Published by:-Hindi News

15 अगस्त को लाल किले की प्राचीर से देश के नाम संबोधन में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा जनसंख्या नियंत्रण को लेकर दिए गए भाषण पर AIMIM चीफ असदुद्दीन ओवैसी का बयान सामने आया है। जिसमे ओवैसी ने कहा है कि सरकार को पता ही नहीं है कि बढ़ती आबादी का फायदा कैसे उठाया जाए।

ओवैसी ने कहा कि भारत की अधिकांश आबादी अभी युवा है, लेकिन इसका फायदा 2040 तक ही मिलने वाला है। सरकार युवा आबादी का फायदा उठाने की बजाय ऐसे आइडिया लेकर आ रही है जिससे वो अपनी जिम्मेदारी से बच सके।

ओवैसी ने ट्वीट किया, “इस वक्त हिन्दुस्तान की ज्यादातर आबादी युवा है इस आबादी के पास अभी उत्पादन की क्षमता है, लेकिन ये फायदा 2040 तक ही मिलने वाला है, प्रधानमंत्री कार्यालय को पता ही नहीं है कि इस फायदे का इस्तेमाल कैसे किया जाए, इसलिए वो शासन करने के ऐसे विचारों के साथ सामने आ रहे हैं जो खारिज किया जा चुका है और दूसरों की जिंदगी में दखल देता है। इन विचारों के साथ वे अपनी जिम्मेदारी से भाग रहे हैं।”

वहीं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जनसंख्या नियंत्रण को लेकर दिए गए भाषण की मुस्लिम धर्मगुरु मौलाना खालिद रशीद फरंगी महली ने तारीफ की है। फरंगी महली ने कहा कि जनसंख्या नियंत्रण की बात स्वागत योग्य है। साथ ही उन्होंने सुझाव दिया कि लोगों को शिक्षित करके बढ़ती जनसंख्या पर रोक लगाई जा सकती है।

उन्होंने केरल का उदाहरण देते हुए कहा कि केरल में 100 फीसदी शिक्षा का स्तर इसलिए वहां जनसंख्या पर नियंत्रण है। जैसे-जैसे देश में शिक्षा का स्तर बढ़ेगा, वैसे-वैसे फैमिली साइज भी कम होगा। लिहाजा हम सभी को मिलकर मुल्क में शिक्षा के ज्यादा से ज्यादा प्रचार प्रसार की कोशिश करने की जरूरत है।

Loading...