savitri

अयोध्या में विवादित स्थल पर राम मंदिर बनाने की आरएसएस और बीजेपी के नेताओं के मांग के बीच बीजेपी की दलित सांसद सावित्री बाई फुले की पार्टी लाइन से हटकर अलग ही मांग सामने आई है। उन्होने अयोध्या को भगवान बुद्ध का स्थान बताते हुए बुद्ध की प्रतिमा स्थापित करने की मांग की है।

उन्होंने कहा,” उच्च न्यायालय के आदेश पर अयोध्या में जब विवादित स्थल पर खुदाई की गयी थी, तो वहां तथागत से जुड़े अवशेष निकले थे। इसलिए अयोध्या में भगवान बुद्ध की ही प्रतिमा स्थापित होनी चाहिए।” बीजेपी सांसद ने कहा कि मैं साफ करना चाहती हूं कि अयोध्या बुद्ध का स्थान है। इसलिए वहां बुद्ध की ही प्रतिमा स्थापित होनी चाहिए।

संघ के प्रचारक एवं भाजपा के राज्य सभा सदस्य राकेश सिन्हा द्वारा राम मंदिर निर्माण के पक्ष में एक निजी विधेयक लाए जाने संबंधी सवाल पर पार्टी सांसद ने कहा, ‘‘भारत का संविधान धर्म निरपेक्ष है, जिसमें सभी धर्मों की सुरक्षा की गारंटी दी गयी है। संविधान के तहत ही देश चलना चाहिए। सांसद या विधायक को भी संविधान के तहत ही चलना चाहिए।”

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

बता दें कि उच्चतम न्यायालय द्वारा अयोध्या के विवादित स्थल मामले पर नियमित सुनवाई अगले साल जनवरी तक टाले जाने के बाद से इस मुद्दे पर एक नई बहस छिड़ गई है। हिन्दू साधु-संत तथा विभिन्न तथाकथित हिन्दूवादी संगठन अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिये कानून बनाने के लिये सरकार पर लगातार दबाव बना रहे हैं।

हालांकि विपक्ष इस पूरे मामले को चुनावों से जोड़कर देख रहा है। विपक्ष का आरोप है कि हर मोर्चे पर फ़ेल हो चुकी बीजेपी सरकार धुर्वीकरण के लिए इस मुद्दे का इस्तेमाल कर रही है।

Loading...