owa

ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी के खिलाफ कोलकाता में भारतीय दंड संहिता की धारा 153 ए/ 295 ए के तहत मामला दर्ज करने की याचिका दायर की गई है।

ये याचिका 5 अगस्त को हैदाराबाद में एक रैली में दिये गए बयान को लेकर है। जिसमे ओवैसी ने हरियाणा के गुरुग्राम में मुस्लिम शख्स की जबरन दाढ़ी काटने के मामले में कहा था कि अगर हमारा गला भी काट देंगे, तब भी हम मुस्लिम ही रहेंगे।

बता दें कि नूंह जिले के बादली गांव के रहने वाले जफरुद्दीन गुरुग्राम सेक्टर-29 में ढाबा चलाते है। पिछले दिनों वो नाई की दुकान पर बाल कटवाने गए थे। दो युवक उन्हे पाकिस्तानी बताते हुए उनकी दाढ़ी पर कमेंट करने लगे और उसे दाढ़ी कटवाने के लिए कहने लगे। जब उन्होने दाढ़ी कटवाने से इनकार किया तो दोनों युवकों ने जबरदस्ती उन्हे कुर्सी पर बैठा दिया और बांध दिया। फिर जफरुद्दीन की दाढ़ी काट दी गई।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

पुलिस ने इस मामले में गौरव, नितिन और अख़लाख़ को गिरफ्तार किया है। पीड़ित जफरुद्दीन ने पुलिस ने नाई अख़लाख़ को छोड़ने की अपील की है।

ओवैसी ने इस घटना के प्रतिक्रिया में सख्त अंदाज में कहा था, ‘एक मुस्लिम युवक की दाढ़ी काट दी गई। जिन्होंने भी यह काम किया है, मैं उनको और उनके बापों (सरपरस्तों) को यह बता देना चाहता हूं कि अगर वो हमारा गला भी काट देंगे, तब भी हम मुस्लिम ही रहेंगे। हम उन लोगों का धर्म बदलवाकर उनको दाढ़ी रखने पर मजबूर करेंगे।’