mamta

पश्चिम बंगाल में हाल ही में टोल प्लाजा पर हुई सेना की तैनाती को लेकर मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पहले ही केंद्र सरकार से खफा हैं. ऐसे में अब रक्षामंत्री मनोहर पर्रिकर ने चिठ्ठी लिखकर उनका गुस्सा सातवे आसमान पर पहुंचा दिया हैं.

पर्रिकर ने मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को एक तीखा पत्र लिखकर कहा कि उनके आरोपों से सेना के मनोबल पर ‘प्रतिकूल’ असर हो सकता है. ऐसे में अब ममता बनर्जी ने पलटवार करते हुए पर्रिकर से कहा कि मैं एक राज्य की सीएम हूं. पहले आप सीएम को चिट्ठी लिखने का तरीका सीखो.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

पर्रिकर ने चिट्ठी लिखकर कहा था कि

सैन्यकर्मियों की तैनाती के सिलसिले में आरोपों को लेकर उन्हें ‘गहरा दुख’ हुआ है तथा उनके स्तर एवं सार्वजनिक जीवन के अनुभव वाले व्यक्ति से ऐसी उम्मीद नहीं की जाती है. उन्होंने कहा, ‘इस संबंध में आपके आरोपों से देश के सशस्त्र बलों के मनोबल पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ने का खतरा है और यह आपके स्तर एवं सार्वजनिक जीवन के अनुभव वाले व्यक्ति से ऐसी उम्मीद नहीं की जाती.

पर्रिकर ने इस पत्र में कड़े शब्दों का इस्तेमाल करते हुए कहा है कि राजनीतिक दलों और नेताओं को भले ही एक दूसरे के खिलाफ आरोप लगाने की छूट हो सकती है लेकिन सैन्य बलों का संदर्भ देते हुए बेहद सावधान रहना चाहिए.

वहीं ममता ने पलटवार करते हुए कहा कि पर्रिकर को पता नहीं है कि मुख्यमंत्री को पत्र कैसे लिखा जाता है. उन्हें सीखना चाहिए. उन्होंने पर्रिकर के पत्र पर कहा कि “मैं आपके आधारहीन दावों पर कड़ी आपत्ति व्यक्त करती हूं. आप अपने राजनैतिक उद्देश्य की पूर्ति के लिए सेना का उपयोग कर रहे हैं.

Loading...