नई दिल्ली । राजनीतिक दलो की सोशल मीडिया पर बढ़ती सक्रियता जहाँ जनता तक उनकी पहुँच को बढ़ा रहा है वही इसकी वजह से काफ़ी विवाद भी सामने आ रहे है। सोशल मीडिया के ज़रिए राजनीतिक दल, विपक्षी दलो पर निशाना साधने के लिए मर्यादाओं की सीमाओं को भी लाँघ रहे है। इसी कड़ी में मंगलवार को यूथ कांग्रेस के ट्वीटर हैंडल से प्रधानमंत्री मोदी के लिए एक आपत्तिजनक तस्वीर को पोस्ट किया गया।

इसमें प्रधानमंत्री को चायवाला बताकर उनका मज़ाक़ बनाया गया। जिस पर भाजपा की तरह से काफ़ी तीखी प्रतिक्रिया सामने आयी। विवाद बढ़ने के बाद यूथ कांग्रेस ने इस तस्वीर को ट्वीटर से हटा दिया। लेकिन जंग अभी भी जारी थी। इसलिए बुधवार को भाजपा सांसद और अभिनेता परेश रावल ने एक जवाबी ट्वीट कर इस मामले को हवा देने की कोशिश की। हालाँकि उनका ट्वीट भी मर्यादाओं की सीमाओं को लाँघ रहा था।

उन्होंने लिखा,’ हमारा चाय वाला, तुम्हारे बार वाला से किसी भी दिन बेहतर है।’ परेश रावल का यह ट्वीट उनके गली की हड्डी बन गया। सोशल मीडिया पर तुरंत ही परेश रावल की आलोचना होनी शुरू हो गयी। यही नही कांग्रेस की तरफ़ से भी परेश पर जवाबी हमला किया गया। कांग्रेस प्रवक्ता प्रियंका चतुर्वेदी ने ट्वीट कर पूछा,’ क्या हुआ परेश रावल ? अपने ट्वीट पर टिके नहीं रहे और माफी भी नहीं मांगी। मैं इस बात से बेहद खुश हूं कि मैं एक ऐसी पार्टी का हिस्सा हूं जो अपने कार्यकर्ता के ट्वीट की भी जिम्मेदारी लेती है।’

विवाद बढ़ता देख परेश रावल ने अपने ट्वीट को डिलीट करते हुए माफ़ी माँग ली। उन्होंने ट्वीट कर लिखा,’मैंने ट्वीट को डिलीट कर दिया है। यह ठीक नहीं था। लोगों की भावनाओं को आहत करने के लिए माफी मांगता हूं।’ हालाँकि दोनो और से ट्वीट डिलीट कर दिए गए लेकिन दोनो ही दल इस मुद्दे को गुजरात चुनाव में हवा दे सकते है। हालाँकि कांग्रेस ने मामले में सफ़ाई देते हुए ख़ुद को इस ट्वीट से अलग कर लिया और कहा की कांग्रेस में पीएम और सभी विरोधी नेताओं के सम्मान की संस्कृति है।

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?