गुजरात विधानसभा चुनाव प्रचार के दौरान कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी हर छोटे और बड़े मंदिर में जाकर दर्शन किये, हालांकि इस दौरान राहुल ने मुस्लिम और अन्य धार्मिक स्थलों से दुरी बनाकर रखी.

राहुल के इस कदम पर ऑल इंडिया मुस्लिम इत्तेहादुल मुस्लिमीन के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने सवाल खड़े किये है. उन्होंने पूछा कि राहुल किसी मस्जिद या दरगाह क्यों नहीं गए, यहां तक कि किसी मुस्लिम नेता के साथ कोई तस्वीर तक सामने नहीं आई.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

औवेसी ने कहा कि कांग्रेस और भाजपा दोनों पार्टियां गुजरात विधानसभा चुनाव के दौरान ऐसा कुछ भी करते हुए नहीं देखी गईं, जिससे यह पता चले कि वो जीतने के लिए मुस्लिम समुदाय के मतदाताओं का वोट भी चाहते हैं. वे इस तरह से चुनाव भले ही जीत गए हों, लेकिन इससे हमारा लोकतंत्र कमजोर हुआ है.

उन्होंने कहा, जान बूझ कर मुस्लिमों में राजनीति रूप से प्रभावहीन करने का प्रयास करना अच्‍छी बात नहीं है. ओवैसी ने कहा, कहा कि जिस तरह वे मंदिर के दर्शन कर रहे हैं, उन्होंने कभी दरगाह या मस्जिद का रुख क्यों नहीं किया.

गौरतलब है कि राहुल ने गुजरात चुनाव प्रचार के दौरान 27 छोटे-बड़े मंदिरों में दर्शन किये थे. आज भी वे सोमनाथ मंदिर में दर्शन के लिए पहुंचे है.