ऑल इण्डिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लमीन (एआईएमआईएम) के मुखिया असदुद्दीन ओवैसी आगामी लोकसभा चुनाव 2019 को लेकर उत्तरप्रदेश में अपने उम्मीदवार उतार सकते है।
एआईएमआईएम करीब 50 सीटों पर अपने प्रत्याशी उतार सकती है।

एआईएमआईएम की उत्तर प्रदेश इकाई के अध्यक्ष शौकत अली ने न्यूज़ 18 से बातचीत में बताया कि, पार्टी राज्य की 80 लोकसभा सीट में से 50 पर चुनाव लड़ने की योजना बना रही है। इसमें से एक सीट पर असदुद्दीन ओवैसी भी लड़ सकते हैं। हालांकि शौकत अली ने यह नहीं बताया कि ओवैसी अपने लिए कौन सी सीट चुनेंगे।

Loading...

शौकत अली ने आरोप लगाते हुए कहा कि, यहां मुस्लिम लीडरशिप को अछूत समझा जा रहा है। साथ ही उन्होंने कहा कि, दोनों ही पार्टियों के कार्यकाल में मुस्लिम पीड़ित ही था। उन्होंने गठबंधन में राष्ट्रीय लोक दल को हिस्सेदारी देने पर भी सवाल उठाए।

शौकत अली ने कहा, ‘लोकसभा चुनाव के लिए सपा और बसपा ने 4 प्रतिशत जाट वोट बैंक पर पकड़ रखने वाली आरएलडी को हिस्सेदारी दी। हालांकि राज्य में बड़ी संख्या में रह रहे 22 फीसदी मुसलमानों के बारे में कुछ भी नहीं सोचा’।

एआईएमआईएम उत्तर प्रदेश अध्यक्ष ने कहा, हम पर भाजपा की बी टीम होने होने का आरोप लगता है। लेकिन हम कहने वालों से बता दें कि, तेलंगाना में बीजेपी खिलाफ हम लड़े और बी टीम ने ही उसका सफाया कर दिया।

उत्तर प्रदेश में बसपा मुखिया मायावती ने दो बार भाजपा के साथ मिलकरसरकार बनाई। नरेंद्र मोदी के लिए गुजरात में चुनाव प्रचार किया। फैसला आप करिए बीजेपी की बी टीम कौन है।

शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें