Friday, January 28, 2022

ओवैसी ने लोकसभा में फाड़ा नागरिकता संशोधन बिल, बोले – एक और बंटवारा होने जा रहा….

- Advertisement -

नई दिल्ली: नागरिकता संशोधन विधेयक पर चर्चा में भाग लेते हुए एआईएमआईएम के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने बिल पर पार्टी का पक्ष रखा और बोलने के दौरान ही बिल की कॉपी फाड़ दी। उन्होंने बिल का विरोध करते हुए कहा कि यह बिल देश को तोड़ने का काम करेगा।

उन्होंने कहा कि इस बिल के पीछे बीजेपी का हिंदू-मुस्लिम एजेंडा है। उन्होंने बिल का विरोध करते हुए कहा कि ये एक और बंटवारा होने जा रह है। यह बिल हमारे संविधान के खिलाफ है। यह हमारे स्वतंत्रता सेनानी का अपमान है। मैंने इस बिल को फाड़ दिया, क्योंकि यह बिल हमारे देश को तोड़ने का काम कर रहा है।

उन्होंने बिल पर कड़ा एतराज जताते हुए कहा कि यह संविधान के खिलाफ है। असदुद्दीन ओवैसी ने कहा, ”महात्मा गांधी ने दक्षिण अफ्रीका में नागरिकता कार्ड को फाड़ा था और मैं आज इस विधेयक को फाड़ता हूं। इसके बाद उन्होंने विधेयक की प्रति फाड़ दी।” इसके बाद सदन में सत्ता पार्टी के सांसदों ने हंगामा करना शुरू कर दिया। कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा कि ओवैसी संसद के वरिष्ठ सदस्य हैं और उन्होंने जो किया है वो सदन का अपमान है। बीजेपी सदस्य पीपी चौधरी ने भी कहा कि ओवैसी ने संसद का अपमान किया है।

हालांकि उन्होंने सदन से बाहर आने के बाद NDTV से खास बातचीत में कहा कि मैं इस बिल का विरोध करता हूं इसलिए मैंने यह बिल फाड़ा। औवैसी ने कहा कि इस बिल को एनआरसी से जोड़ना जरूरी है। इसे एनआरसी के साथ जोड़कर देखना इसलिए भी जरूरी है क्योंकि यह बिल पूरी तरह से मुसलमानों के साथ भेदभाव करने वाली है। उन्होंने आगे कहा कि यह हर भारतीय का अधिकार है कि वह सरकार के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट जा सकती है और इस बार तो सरकार ने संविधान की आत्मा के साथ ही खिलवाड़ किया है।

- Advertisement -

[wptelegram-join-channel]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles