ओवैसी ने श्री श्री रविशंकर को बताया जोकर, कहा – बोलते है झूठ, ऐसा करके नोबेल नहीं मिलेगा

अयोध्या विवाद में एंट्री करने वालेऑर्ट ऑफ लिविंग के संस्‍थापक श्री श्री रविशंकर को आल इंडिया मजलिस ए इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने जोकर करार देते हुए झूठा करार दिया.

दरअसल, रविशंकर की और से दावा किया गया था कि उनकी अयोध्या मसले पर ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल बोर्ड के सदस्यों से मुलाक़ात हुई. रविशंकर के इस दावे को खारिज करते हुए कहा कि बोर्ड के सदस्यों में से किसी ने कोई मुलाकात नहीं की है.

ओवैसी ने रविशंकर को जोकर बताते हुए कहा, इतने बड़े मसले में ऐसे कैसे लोगों को मध्यस्थता के लिए बुलाया जा रहा है. ये कोई मजाक है क्या? कोई अपने आप को अकबर का वंशज बताता है तो कोई मुगल का. मैं तो कहता हूं कि मैं आदम का वंशज हूं तो क्या पूरी सल्तनत मेरी हो गई है.

ओवैसी ने रविशंकर पर निशाना साधते हुए कहा कि ये सब करके नोबेल पुरस्कार नहीं मिलने वाला है.  मैं कहूंगा कि पहले एनजीटी ने जो उन्हें 75 लाख रुपये का जुर्माना भरने को कहा था वो चुका दें फिर बात करें.

ध्यान रहे रविशंकर 16 नवंबर को अयोध्या का दौरा करेंगे. इस दौरान वे मुस्लिम पक्षकारों से भी बातचीत करेंगे. रविशंकर का कहना है कि अयोध्या जैसा मसला बातचीत से ही सुलझ सकता है.

विज्ञापन