महाराष्ट्र में चल रहे मराठा आंदोलन के बीच आल इंडिया मजलिस ए इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने मुस्लिमों के लिए आरक्षण की मांग उठाई।

उन्होंने कहा कि अगर आपको मराठों को आरक्षण देना है तो बराबर दो। लेकिन मुसलमानों को क्यों नहीं देते, हमनें क्या गुनाह किया है। इस दौरान उन्होने कॉंग्रेस और एनसीपी पर भी निशाना साधा।

ओवैसी ने कहा कि हर कोई मुझपर आरोप लगाता है कि मैं मोदी जी से मिला हुआ हूं। लेकिन कांग्रेस-एनसीपी को बताना चाहिए कि आखिर मोदी से गले मिले, किसने सीना से सीना मिलाया। अगर पूछो तो कहते हैं कि प्यार से नफरत को खत्म करेंगे।

258003 rahul gale

उन्होने आगे कहा, जब से बीजेपी की सरकार बनी है, तभी से गरीब-कमजोरों को दबाया जा रहा है। बीजेपी मुसलमानों के दिल में डर पैदा करना चाहती है। ओवैसी ने कहा कि महाराष्ट्र से 48 सांसद संसद गए लेकिन एक भी मुसलमान नहीं था।

ओवैसी ने सुप्रीम कोर्ट के जज एके गोयल को NGT का प्रमुख बनाने का भी विरोध किया। उन्होने कहा कि जिस दिन SC/ST कानून खत्म किया गया और जिन जज ने ये फैसला दिया, मोदी सरकार ने उन्हें ही NGT का प्रमुख बना दिया।