गोरक्षकों ने की थी मुस्लिम युवक की हथौड़े से पिटाई, ओवैसी ने कसा पीएम मोदी पर तंज़

दिल्ली से सटे गुड़गांव में शुक्रवार को गोरक्षकों ने एक मीट सप्लायर को हथौड़े से बुरी तरह पीटा। मामले में अब तक 2 आरोपियों की गिरफ्तारी किया जा चुका है। मामले में 5-6 अन्य आरोपियों की पहचान भी हो चुकी है। जिनकी गिरफ्तारी के लिए छापेमारी जारी है।

टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के मुताबिक, मेवात के एक मीट सप्लायर लुकमान (25) को गोमांस ले जाने के शक पर पीटा गया। इस संबंध में एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है, जिसमें कुछ कथित गोरक्षक लुकमान को पीट रहे हैं। इस वीडियो में पुलिस भी  मौजूद दिख रही है।  पीड़ित लुकमान ने बताया कि वह शुक्रवार सुबह नौ बजे सेक्टर 4-5 चौक पर पहुंचा था। उसकी पिकअप वैन में भैंस का मांस लदा हुआ था कि तभी पांच दोपहिया वाहनों पर सवार कुछ युवकों ने उसका पीछा करना शुरू किया।

लुकमान ने बताया, ‘वे लगभग आठ से दस लोग थे. वे मुझे गाड़ी रोकने को कह रहे थे। अपनी सुरक्षा को देखते हुए मैंने गाड़ी की रफ्तार बढ़ा दी। सदर बाजार में मेरी गाड़ी को रोककर मुझे गाड़ी से बाहर निकाला गया। उन्होंने लोहे की रॉड से यह कहकर मेरी पिटाई की कि मैं गोमांस ले जा रहा हूं। लुकमान ने बताया कि जैसे ही लोगों की भीड़ और कुछ पुलिसकर्मी इकट्ठा होने शुरू हुए, उन्होंने मुझे ट्रक में बैठाया और मुझे सोहना लेकर गए।

इस दौरान पुलिस की टीम ने ट्रक का पीछा किया और लुकमान को बचाया। इन हमलावरों ने पुलिस पर भी हमला किया और फरार होने से पहले उनके वाहन को तोड़ दिया। पुलिस लुकमान को अस्पताल लेकर गई. बताया गया है कि लुकमान को फ्रैक्चर हुआ है लेकिन उसकी हालत स्थिर है।

मामले में एआईएमआईएम चीफ असदुद्दीन ओवैसी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर तंज कसा है। ओवैसी ने कहा कि ‘प्रधानमंत्री ने बकरीद पर हमें करुणा और समावेशी जैसे शब्दों से बधाई दी। कल ही उनके वैचारिक फूट सोल्जरों ने लुकमान को हथौड़े से मारा और उसे जेएसआर कहने पर मजबूर किया। लुकमान का अर्थ होता है एक ज्ञानवान आदमी। उम्मीद करता हूं कि पीएम लुकमान से सीख सकते हैं कि एक न्यायप्रिय समाज कैसा होता है।’

बता दें कि पीएम मोदी ने शनिवार को ईद-अल-अजहा की बधाई देते हुए कहा था कि वे उम्मीद जताते हैं कि ये पावन त्योहार हमें एक न्यायपूर्ण, समरसतापूर्ण मधुर और समावेशी समाज के निर्माण के लिए प्रेरित करेगा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि वे उम्मीद जताते हैं कि बकरीद का ये मौका हमारे बीच भाईचारे और करुणा की भावना को और भी बढ़ाएगा।

विज्ञापन