ग्रेटर हैदराबाद नगर निगम चुनाव में प्रचार करने पहुंचे उत्‍तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ के हैदराबाद का नाम बदलकर भाग्‍यनगर करने के बयान पर स्थानीय सांसद और एआईएमआईएम के नेता असदुद्दीन ओवैसी ने करारा पलटवार किया है।

उन्होने कहा, हैदराबाद का नाम बदल देंगे। हर जगह नाम बदल देंगे। तुम्हारा नाम बदल जाएगा लेकिन हैदराबाद का नाम नहीं बदलेगा। ये इनकी सोच है। उन्होंने कहा कि उत्तर-प्रदेश के मुख्यमंत्री आए और बोले मैं नाम बदल देता हूं। अरे भाईसाहब आप क्या ठेका लेकर बैठे हैं। अच्छा इनसे पूछ लो कि ताजमहल कौन बनाया, वो बोलेंगे मुगल बादशाह ने नहीं बनाया वो किसी और ने बनाया था हमारे अपने ने बनाया था। अब कुतुब मीनर और चार मीनार को बोलेंगे कोई और बनाया था।

ओवैसी ने कहा कि कोई बोलता है किले पर अपना झंडा लगाउंगा मैं कहना चाहूंगा किला हमारा है, सियासी किला हमारा है हमें वहां तिरंगा लगाना है और इससे बड़ा कौन सा झंडा है। उन्होंने कहा कि न तुम्हारा झंडा लगेगा और न तुम्हारा डंडा चलेगा। यहां पर मस्जिद थी और रहेगी।

ओवैसी ने कहा, ‘ जो शख्स (योगी आदित्‍यनाथ) हैदराबाद का नाम बदलना चाहता है, उनकी नस्लें तबाह हो जाएगी लेकिन इस शहर का नाम नहीं बदलेगा। हम अली के नाम लेवा हैं। हम तुम्हारा नाम तब्दील कर देंगे। मैं आप लोगों (मतदाताओं) को वास्ता देता हूं कि आप लोगों को जवाब देना होगा उन लोगों को जो शहर का नाम बदलना चाहते है।’

बता दें कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ शनिवार को कहा था कि लोग मुझसे पूछ रहे थे क्या हैदराबाद भाग्य नगर हो सकता है। मैंने कहा- क्यों नहीं, हमने फैजाबाद को अयोध्या कर दिया। इलाहाबाद को प्रयागराज कर दिया। तो फिर यहां का वास्तविक नाम भाग्य नगर क्यों नहीं हो सकता। भाग्य नगर का मतलब विकास का प्रतीक।

योगी ने ओवैसी की पार्टी पर निशाना साधते हुए कहा कि जो लोग हिंदुस्तान में रहते हैं, वह हिंदुस्तान का नाम शपथ में नहीं लेते। ये घटना दिखाती है कि ओवैसी की एआईएमआईएम का असली चेहरा क्या है। इस तरह हैदराबाद नगर निगम चुनाव ओवैसी और बीजेपी नेताओं के बीच जंग का मैदान बन गया है।

Loading...
विज्ञापन
अपने 2-3 वर्ष के शिशु के लिए अल्फाबेट, नंबर एंड्राइड गेम इनस्टॉल करें Kids Piano