महाराष्ट्र निकाय चुनावों में शिवसेना और बीजेपी की जबर्दस्त जीत दर्ज की. इसी के साथ लोकसभा सांसद असददुद्दीन ओवैसी की पार्टी ऑल इंडिया मजलिस ए इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) ने भी अपनी उपस्थिति दर्ज की है.

एमआईएम ने सोलापुर म्युनिसिपल कॉर्पोरेशन की 5 सीटों पर जीत दर्ज की है. वहीँ बीएमसी में भी एमआईएम का एक कॉर्पोरेटर जीता है. साल 2014 में पार्टी को महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव में भी दो सीटें मिली थीं. पार्टी नांदेड़ और औरंगाबाद से चुनाव जीती थी.

सांसद ओवैसी ने अपनी पार्टी की जीत पर कहा, ‘हमारे लिए यह बहुत उत्साहजनक है क्योंकि हमने सोलापुर में 11 सीटें, अमरावती में 10, मुंब्रा में 2, मुम्बई में 3 सीटें जीती हैं. नागपुर भी हमारे लिए बहुत अच्छा रहा है.’

उन्होंने कहा, ‘यह हमारे लिए बहुत उत्साहजनक है. हमने मुम्बई मेें खाता खोल लिया है, हमने मुंब्रा में खाता खोल लिया है. हमने सोलापुर, अमरावती में बहुत अच्छा प्रदर्शन किया. अकोला में भी हमने सीटें जीती हैं. इसलिए यह बहुत उत्साहजनक है और मैं लोगों को हमारे उम्मीदवारों को विजयी बनाने और फिर से विश्वास जताने के लिए धन्यवाद देता हूं.’

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

ओवैसी ने आगे कहा, ‘हम जहां भी बेहतर प्रदर्शन नहीं कर पाये, जैसे पुणे में हम खाता नहीं खोल पाये, वहां हम निश्चित तौर पर अपनी कमजोरी की पहचान करेंगे और आगे बढेंगे.’ चुनाव में BJP की बडी सफलता पर ओवैसी ने कांग्रेस के खराब प्रदर्शन की तरफ इशारा करते हुए कहा कि कम से कम अब धर्मनिरपेक्ष दलों को उन पर धर्मनिरपेक्ष वोटों को बांटने का आरोप लगाना बंद करना चाहिए.

Loading...