नई दिल्ली:  2007 में हुए हैदराबाद बम धमाकों के मामले में आए फैसले को लेकर ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहाद-उल मुसलमीन (AIMIM) प्रमुख और हैदराबाद से सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने कहा कि अभी न्याय नहीं हुआ है।

न्यूज एजेंसी एएनआई से बातचीत करते हुए कहा,” ये हैदराबाद के लिए दुखद घटना है। बरी किए गए आरोपी के वकील सतार ने मुझे बताया कि सभी सबूत आकस्मिक थे। यहां तक की चश्मदीद गवाह भी धमाके के 1.5 साल बाद मिले। मुझे लगता है कि न्याय अभी तक नहीं हुआ है।”

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

बता दें कि 11 साल पहले गोकुल चाट और लुंबिनी पार्क में हुए इस दोहरे बम विस्फोट मामले में एनआईए कोर्ट ने 5 आरोपियों में से दो आरोपियों को दोषी करार दिया है, जबकि दो आरोपियों को बरी कर दिया गया है। अदालत पांचवे आरोपी की सजा पर फैसला सोमवार को सुनाएगी।

अतिरिक्त मेट्रोपोलिटन सत्र न्यायाधीश टी श्रीनिवास राव ने अनीक शफीक सईद और मोहम्मद अकबर इस्माइल चौधरी को दोषी करार दिया है। अदालत ने इस मामले में फारुक शार्फुद्दीन तरकश और मोहम्मद सादिक इसरार अहमद शेख को बरी कर दिया है। इस मामले में पांचवे आरोपी तारिक अंजुम की सजा पर फैसला अदालत 10 सितंबर को करेगी।

Loading...