नई दिल्ली: ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी की भारतीय मुस्लिमों को पाकिस्तानी कहे जाने को दंडनीय अपराध घोषित करने की मांग पर बीजेपी के राज्यसभा सांसद विनय कटियार ने मुस्लिमों को पाकिस्तान और बांग्लादेश भेजे जाने की बात कही थी. जिसके जवाब में ओवैसी ने पलटवार किया है.

कटियार ने बुधवार को कहा था कि, “मुसलमानों को भारत में नहीं रहना चाहिए, उन्हें पाकिस्तान या बांग्लादेश चले जाना चाहिए.” इस पर असदुद्दीन ओवैसी भड़क गए और हमला करते हुए बोले कि, ‘कोई भी चिराग बुझने से पहले भड़कता बहुत है.’ ओवैसी ने कहा कि जब किसी चिराग के बुझने का समय आता है तो वह बहुत ज्यादा भड़कता है, क्योंकि वह इस बात को जानता है कि उसका अंत जल्द ही होने वाला है.

विनय कटियार ने एक सवाल के जवाब में कहा था कि ‘मुसलमानों को इस देश में रहना ही नहीं चाहिए. उन्होंने जनसंख्या के आधार पर देश का बंटवारा कराया तो इस देश में रहने की क्या आवश्यकता है. उनको अलग भूभाग दे दिया गया है. बांग्लादेश या पाकिस्तान जाएं यहां क्या काम है उनका?

ध्यान रहे ओवैसी ने लोकसभा में मांग की थी कि केंद्र सरकार को ऐसा कानून बनाना चाहिए, जिसमें भारतीय मुस्लिमों को ‘पाकिस्‍तानी’ कहे जाने को दंडनीय अपराध माना जाए. इस कानून के अंतर्गत अपराध करने पर तीन साल तक कारावास की सजा देनी चाहिए. हालांकि उन्होंने यह भी कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अगुवाई वाली सरकार संसद में ऐसे बिल नहीं लाएगी.

Loading...

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें