जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद भारत और पाकिस्तान के बीच उपजे तनाव के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से फोन पर बात की।

ऐसे में अब एआईएमआईएम अध्यक्ष और हैदराबाद से सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने सवाल उठाते हुए कहा कि शुरुआत से ही हम कहते रहे हैं कि कश्मीर एक द्विपक्षीय मुद्दा है। भारत का इसपर बहुत ही स्थिर रुख है। फिर पीएम मोदी को अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को फोन कर इसकी शिकायत करने की क्या जरूरत थी?

गौरतलब है कि  डोनल्ड ट्रंप ने सोमवार को भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान ख़ान से फ़ोन पर बात की। दोनों प्रधानमंत्रियों से बातचीत में ट्रंप ने कश्मीर पर जारी तनाव को कम करने का आग्रह किया है।

ट्रंप ने मंगलवार तड़के ट्विटर पर लिखा है, अपने अच्छे दोस्त भारत के प्रधानमंत्री मोदी और पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान ख़ान से व्यापार, रणनीतिक साझेदारी और सबसे महत्वपूर्ण कश्मीर मुद्दे पर जारी तनाव को कम करने को लेकर बात की। यह मुश्किल घड़ी है लेकिन अच्छी बातचीत हुई।

राष्ट्रपति ट्रंप की प्रधानमंत्री मोदी से बातचीत को लेकर व्हाइट हाउस के प्रवक्ता होगन गाइडली ने कहा, अमरीकी राष्ट्रपति ने कश्मीर पर जारी तनाव को कम करने के लिए कहा है।

Loading...
लड़के/लड़कियों के फोटो देखकर पसंद करें फिर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

 

विज्ञापन