रोहिंग्याओं के वोटिंग लिस्ट में नाम होने पर एआईएमआईएम चीफ असदुद्दीन ओवैसी ने केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह को निशाने पर लिया है। उन्होने कहा कि क्या गृह मंत्री अमित शाह सो रहे थे? उन्होंने अमित शाह को चैलेंज देते हुए शाम तक ऐसे 1000 लोगों का नाम बताने के लिए कहा।

हैदराबाद में एक जन सभा के दौरान उन्होने कहा, “अगर इलेक्टोरल लिस्ट में 30 हजार रोहिंग्या मुसलमान हैं, तब अमित शाह क्या कर रहे हैं? क्या वह सो रहे हैं? क्या यह उनका काम नहीं है कि देखें आखिर कैसे लिस्ट में 30 से 40 रोहिंग्याओं का नाम आ गया? अगर भाजपा ईमानदार है, तब वह मुझे कल शाम तक ऐसे 1000 नाम भी दिखा दे।”

ओवैसी ने बीजेपी सांसद तेजस्वी सूर्या (Tejaswi Surya) के उस बयान का जवाब दिया, जिसमें तेजस्वी ने उन पर रोहिंग्या मुसलमानों को हैदराबाद में जगह देने का आरोप लगाया था। उन्होंने कहा था, “यह हास्यास्पद है कि अकबरुद्दीन और असदुद्दीन ओवैसी विकास की बात तो करते हैं। पर उन्होंने पुराने हैदराबाद में विकास को आने नहीं दिया। उन्होंने जिसे एंट्री दी, वह थे रोहिंग्या मुसलमान। ओवैसी को दिया हर एक वोट भारत के खिलाफ दिया गया वोट है।”

सूर्या के मुताबिक, ओवैसी, पाकिस्तान के संस्थापक मोहम्मद अली जिन्ना के अवतार हैं। उन्हें वोट देने का मतलब भारत के खिलाफ वोट देना है। यह सिर्फ एक निगम चुनाव नहीं है, बल्कि आप अगर यहां उन्हें (ओवैसी) को वोट देते हैं तो वो महाराष्ट्र, कर्नाटक, बिहार, यूपी जैसे राज्यों में मजबूत होते हैं।

ओवैसी ने कहा कि बीजेपी का इरादा नफरत पैदा करना है। यह लड़ाई हैदराबाद और भाग्यनगर के बीच है। अब यह तय करना आपकी जिम्मेदारी है कि कौन जीतेगा। 2018 में तेलंगाना में एक रैली को संबोधित करते हुए सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा था कि अगर हमारी सरकार बनती है तो हम हैदराबाद का नाम बदलकर भाग्यनगर कर देंगे।

Loading...
विज्ञापन
अपने 2-3 वर्ष के शिशु के लिए अल्फाबेट, नंबर एंड्राइड गेम इनस्टॉल करें Kids Piano