ऑल इंडिया मजलिस‑ए‑इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने दिल्ली दंगो को लेकर जांच कर रही दिल्ली पुलिस पर भड़कते हुए कहा कि वह बेगुनाह लोगों को निशाना बनाना बंद करें। उन्होंने दिल्ली पुलिस से दंगे में मारे गए फैजान के हत्यारों के बारे में भी सवाल किया।

ओवैसी ने कहा कि ‘वही आदेश जिसमें कोर्ट ने आपके वरिष्ठ अधिकारियों को कोई भी ऐसा निर्देश न देने की सलाह दी थी जो कि कानून के मुताबिक नहीं हो? ओवैसी ने कहा कि कोई भी प्रो-राटा गिरफ्तारी की मांग नहीं कर रहा है।

मेरे ट्वीट दिल्ली पुलिस के अब तक के कामकाज के बारे में बताते हैं। दंगों के लिए जिम्मेदार नेताओं को रिहा कर दिया गया है। क्या उन पुलिसवालों की कोई जवाबदेही नहीं है जिन्होंने हिंसा में भाग लिया था या हिंसा होने दी थी। फैजान के हत्यारे कहां हैं? एसआई भाटी कहां है? बलि का बकरा ढूंढना बंद करो। बहाने बनाना बंद करो। अपना काम करो।’

दरअसल, दिल्ली पुलिस ने ट्वीट किया, ‘बेहतर समझ के लिए कृपया माननीय दिल्ली हाइकोर्ट के आदेश को पढ़ें। प्रो-राटा गिरफ्तारी करना कंगारू कोर्ट चलाने जैसा है। दिल्ली दंगा पीड़ित कानून के शासन में रहने के लायक हैं। दंगों की जाँच में दिल्ली पुलिस की निष्पक्षता का रिकॉर्ड रहा है।’