चारा घोटाले में सज़ा काट रहे लालू प्रसाद यादव की बीमारी के बारे में खुलासा करने वाले चिकित्सक डॉ. उमेश प्रसाद को मीडिया में अनधिकृत बयानबाजी के लिए कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है। दरअसल, उन्होने दावा किया था कि लालू यादव का स्वास्थ्य ठीक नहीं है और किडनी केवल 25 प्रतिशत क्षमता से काम कर रही है।

इसी बीच राष्ट्रीय जनता दल (RJD) के नेता और नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव शनिवार को अपने पिता लालू यादव से मिलने रांची के रिम्स अस्पताल पहुंचे। मुलाक़ात के बाद तेजस्वी ने कहा कि जैसा कि आपको खबर है लालू जी की 25 प्रतिशत किडनी की काम कर रही है।

तेजस्वी यादव ने राजेंद्र इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेस (रिम्स) में संवाददादातों को बताया, “आप सब को ख़बर होगी कि लालू जी की किडनी 25 प्रतिशत काम कर रही है। पिछले 4-5 महीनों से मैं उनसे नहीं मिला हूं। बिहार चुनाव के बाद पहली बार आज हम लालू से मिलने पहुंचे हैं।”

उन्होने ये भी कहा कि वह रिम्स व दिल्ली के डॉक्टर के लगातार संपर्क में हैं। दिल्ली के डॉक्टर से आग्रह किया हूं कि वे रांची आएं और उनके पिता के स्वास्थ्य का परीक्षण करें। यह बहुत गंभीर बात है कि उनके पिता की किडनी केवल 25 फीसद ही काम कर रही है।

किसान आंदोलन पर भी तेजस्वी मुखर रहे। उन्होंने कहा कि किसान अन्नदाता हैं और देशभर के किसान अपनी जायज मांग को लेकर आंदोलन पर हैं। उन्हें जो सम्मान मिलना चाहिए वह नहीं मिल रहा है। केंद्र सरकार रेल, बीएसएनएल, एलआइसी के बाद अब कृषि क्षेत्र को निजी हाथों में सौंपने की तैयारी में है।

उन्होने कहा, किसानों के उत्पाद को सही मूल्य नहीं मिल पा रहा है, इसी की लड़ाई किसान लड़ रहे हैं। अपनी लड़ाई लड़ते-लड़ते बिहार-झारखंड के किसान इतने कमजोर हो गए हैं कि वे आवाज ही नहीं उठा पा रहे हैं। किसान मजदूर बनते चले गए, उनका विकास नहीं हो पाया। औने-पौने दाम पर धान बेचने को विवश हैं। पश्चिम बंगाल के चुनाव पर तेजस्वी कुछ नहीं बोले, कहा कि अभी इसपर निर्णय नहीं हो सका है।

Loading...
विज्ञापन
अपने 2-3 वर्ष के शिशु के लिए अल्फाबेट, नंबर एंड्राइड गेम इनस्टॉल करें Kids Piano