Tuesday, September 28, 2021

 

 

 

जिस दिन मोदी संन्यास लेंगे, उसी दिन मैं भी राजनीति छोड़ दूंगी: स्मृति ईरानी

- Advertisement -
- Advertisement -

पुणे: केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी का कहना है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जिस दिन राजनीति से संन्यास लेंगे, उस दिन वह भी राजनीति को अलविदा कह देंगी। स्मृति ने रविवार को पुणे में वर्ड्स काउंट महोत्सव के दूसरे संस्करण में परिचर्चा के दौरान यह बयान दिया।

कार्यक्रम में स्मृति ईरानी से पूछा गया कि क्या देश कभी उन्हें प्रधान सेवक की भूमिका में देख पाएगा तो इस पर उन्होंने कहा, ‘मैं खुद को काफी भाग्यशाली मानती हूं कि मैंने अटल बिहारी वाजपेयी जैसे करिश्माई नेता के साथ काम किया है और मौजूदा समय में नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में काम कर रही हूं और जिस दिन प्रधान सेवक संन्यास ले लेंगे, मैं भी उसी दिन राजनीति को अलविदा कह दूंगी।’

स्मृति ने ये भी बताया, ‘नरेंद्र मोदी ने मुझे गुजरात से सांसद बनाया और गुजरात से राज्यसभा के लिए चुनाव के दौरान उन्होंने उम्मीदवार के तौर पर मेरे नाम का प्रस्ताव रखा। जब मुझे मानव संसाधन मंत्री के तौर पर सेवा करने का मौका मिला, तो नेतृत्व के अलावा किसी ने नहीं सोचा था कि मैं इस पर खरी उतरूंगी और जब मुझे कपड़ा मंत्रालय दिया गया तो मैंने महसूस किया कि कई योजनाओं के क्रियान्वयन में 10-20 फीसदी की कमी है। हमने तुरंत सुनिश्चित किया कि सभी योजनाओं का क्रियान्वयन शत-प्रतिशत हो और अहमदाबाद में एक रिसर्च सेंटर की स्थापना हो, जहां हम इसरो को उपग्रहों के निर्माण में सहयोग कर सकें।

2019 का लोकसभा चुनाव लड़ने के सवाल पर स्मृति ने कहा, ‘‘मैं अमेठी से कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के खिलाफ चुनाव लडूंगी या नहीं, इसका फैसला भाजपा और पार्टी अध्यक्ष अमित शाह करेंगे।”

उन्होंने कहा कि 2014 के चुनाव में अमेठी के लोग मुझे ज्यादा नहीं पहचानते थे, लेकिन अब सब जानते हैं कि मैं कौन हूं। 2014 के आम चुनाव में स्मृति ईरानी और कुमार विश्वास राहुल गांधी के खिलाफ खड़े थे। हालांकि, राहुल अपनी सीट जीतने में कामयाब रहे थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles