rajb

उत्तर प्रदेश में योगी केबिनेट में मंत्री और सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी (सुभासपा) के प्रमुख ओम प्रकाश राजभर ने उत्तर प्रदेश में मुस्लिम नामों वाली जगहों के नाम बदले जाने को लेकर कहा कि नाम बदलने को लेकर खर्च की जा रही धनराशि जन कल्याण से जुड़ी योजनाओं पर खर्च की जाती, तो देश के हालात में बदलाव आता।

उत्तर प्रदेश की योगी सरकार में दिव्यांगजन सशक्तिकरण मंत्री राजभर ने ट्वीट के जरिए योगी सरकार पर तीखा हमला किया। उन्होंने कहा, ‘भारत गंगा जमुना तहजीब पर बना है. जितना खर्च नाम बदलने पर हो रहा है, उतना खर्च करके शिक्षा, रोजगार, स्वास्थ्य में सुधार और गरीबों के कल्याण में तेजी लाई जाती तो देश के हालात में बदलाव आता।’ उन्होंने ट्वीट के अंत में लिखा है, ‘दीपावली में अली बसे, राम बसे रमजान, ऐसा होना चाहिए, अपना हिंदुस्तान।’

Loading...

उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा मुगल सराय रेलवे स्टेशन और फिर इलाहाबाद का नाम बदलने को लेकर राजभर पहले ही बीजेपी पर बड़ा हमला कर चुके है। उस वक्त उन्होने कहा था, उत्तर प्रदेश में जिलों के नाम बदलने से पहले भाजपा को अपने राष्ट्रीय प्रवक्ता शाहनवाज हुसैन और केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नक्वी के अलावा उत्तर प्रदेश के मंत्री मोहसिन रजा का नाम बदलना चाहिए।

राजभर ने कहा कि शहरों का नाम बदलकर सरकार पिछड़ों और शोषितों को उनकी मांगों से ध्यान भटकाना चाहती है। मुस्लिमों ने जैसी चीज हमें दी है वैसा किसी ने भी नहीं दिया है। उन्होंने कहा, ‘क्या हमें जीटी रोड को फेंक देना चाहिए। ताजमहल को किसने बनवाया? लाल किला को किसने बनवाया?’

शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें