डेरा समर्थकों को हिंसा के चलते हरियाणा की खट्टर सरकार विपक्ष के निशाने पर है. विपक्ष ने लगातार तीसरी बार बड़े पैमाने पर हिंसा को रोकने में नाकामयाब रहने पर मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर का इस्तीफा माँगा है. साथ ही राज्य में राष्ट्रपति शासन लगाने की मांग की है.

इसी बीच नेशनल कांफ्रेंस के नेता और जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने इस हिंसा की तुलना कश्मीर में होने वाली हिंसा से करते हुए मोदी सरकार को भी निशाने पर लिया है. उन्होंने सवाल उठाया कि कश्मीर की तरह पेलेट गन का इस्तेमाल क्यों नहीं ?

उन्होंने ट्वीट किया, दालत के फैसले के बाद डेरा समर्थकों के हिंसा का सहारा लेने को लेकर ट्विटर पर लिखा, ‘‘मिर्च के बम? काली मिर्च पाउडर के ग्रेनेड? पैलेट गन? क्या बलों ने उन्हें केवल विरोध प्रदर्शन करने वाले कश्मीरियों के लिए ही रख छोड़ा है?’’

इस दौरान उन्होंने सरकारी अधिकारीयों की कार्यवाही पर भी हैरानी जताई और कहा, ‘‘ऐसा लगता है कि हिंसा के सभी दृश्य केवल फर्जी खबरें हैं. सबकुछ इन लोगों के नियंत्रण में है. ओबी वैन खुद ही तबाही मचा रहे हैं.’’ ध्यान रहे अब तक इस हिंसा में 31 लोगों की मौत के साथ राज्य की हजारों करोड़ की सम्पति नष्ट हो चुकी है.

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?