Tuesday, August 3, 2021

 

 

 

JNU हिंसा ने 26/11 मुंबई आतंकी हमले की याद दिला दी : CM उद्धव ठाकरे

- Advertisement -
- Advertisement -

जवाहर लाल नेहरू विश्विविद्यालय यानी जेएनयू में रविवार को हुई हिंसा पर शिवसेना प्रमुख और महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे कहा कि जो कुछ रविवार (कल) हुआ, वह कुछ ऐसा था जिसे हम 26/11 के बाद देख रहे हैं। सभी को पता होना चाहिए कि नकाब के पीछे कौन थे। आज के युवाओं को विश्वास में लेने की जरूरत है। युवा आज आत्मविश्वास खो रहा है।

उन्होंने कहा, “देशभर के विद्यार्थियों में डर का माहौल है… हम सभी को एक साथ आकर उनमें (विद्यार्थियों में) आत्मविश्वास भरना होगा…” उन्होंने कहा, ‘‘अगर दिल्ली पुलिस हमले के अपराधियों का पता लगाने में विफल रहती है, तो उन्हें भी कठघरे में खड़ा किया जाना चाहिए।’’ उन्होंने कहा कि मैं महाराष्ट्र के लोगों से कहना चाहता हूं कि वे सुरक्षित हैं  और यहां कोई भी वैसी घटना नहीं होगी।

ठाकरे ने आगे कहा कि अगर सरकार को जरूरत महसूस होगी तो महाराष्ट्र के विश्वविद्यालय की सुरक्षा बढ़ाई जाएगी। महाराष्ट्र में छात्रों की सुरक्षा को दुरुस्त करने के लिए सरकार हर कदम उठाएगी। उन्होंने कहा कि यहां छात्रों का कोई कूछ भी नहीं बिगाड़ सकता। यहां तक कि कोई छू भी नहीं सकता।

वहीं महाराष्ट्र के लोक निर्माण मंत्री (PWD) और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अशोक चव्हाण ने कहा कि 26/11 को जो हुआ था वो आतंकवाद था, जेएनयू में जो हुआ वह आतंकित करने की कोशिश थी। 26/11 के आतंकवादी बाहर से आए थे और कल वाले यहां के रहने वाले हैं और आतंक फैला रहे हैं।

गौरतलब है कि जेएनयू परिसर में रविवार रात उस वक्त हिंसा भड़क गयी थी, जब लाठियों से लैस कुछ नकाबपोश लोगों ने छात्रों तथा शिक्षकों पर हमला कर दिया था और परिसर में संपत्ति को नुकसान पहुंचाया था। इसके बाद प्रशासन को पुलिस को बुलाना पड़ा था। इस हमले में जेएनयू छात्र संघ की अध्यक्ष आइशी घोष सहित कम से कम 28 लोग घायल हुए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles