lalu_prasad

आरजेडी अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव नोटबंदी के 50 दिन की अवधि पूरी होने की चेतावनी के साथ प्रधानमन्त्री नरेन्द्र मोदी को अपना वादा याद दिलाते हुए कहा कि नोटबंदी के ऐलान के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जनता से 50 दिन का वक्त मांगा था और कहा था कि 50 दिनों की मियाद पूरी होने के बाद देश में हालात बेहतर हो जाएंगे और ऐसा अगर नहीं हुआ तो जनता उन्हें जिस चौराहे पर चाहे सजा दे सकती है और वह उसके लिए तैयार होंगे.

उन्होंने हमलावर होते हुए पीएम मोदी से सीधा सवाल करते हुए पूछा कि उन्हें किस चौराहे पर सजा देनी चाहिए? लालू ने ट्वीट कर कहा, ‘प्रधानमंत्री ने काले धन पर लगाम लगाने के लिए नोटबंदी लागू कर दिया और इसी वजह से पूरे देश में अफरा-तफरी का माहौल पैदा हो गया. प्रधानमंत्री मोदी को अपनी पसंदीदा चौराहा ढूंढ लेना चाहिए जहां पर देश की जनता उन्हें नोट बंदी के फेल होने की सजा दे सके’.

लालू यादव ने शिवसेना के उस बयान का भी समर्थन किया है, जिसमें उसने कहा है कि यूपी चुनाव के मद्देनजर भाजपा मदमस्त हाथी बन गई है. लेकिन भाजपा को यह नहीं भूलना चाहिए कि जब भी सत्ता के नशे में किसी पार्टी ने उत्तर प्रदेश का रुख किया है, जनता ने उसे मुंह की खिलाई है.

इसके साथ ही 28 दिसंबर को लालू की पार्टी राष्ट्रीय जनता दल ने नोट बंदी का विरोध करने के लिए बिहार में धरना प्रदर्शन करने का ऐलान किया हुआ है.


शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

Loading...

कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें