Friday, August 6, 2021

 

 

 

मुझे गोधरा में शामिल लोगों के सामने देशभक्ति दिखाने की जरूरत नहीं: सिद्धू

- Advertisement -
- Advertisement -

पंजाब सरकार में कैबिनेट मंत्री और पूर्व क्रिकेटर नवजोत सिंह सिद्धू ने शनिवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर सीधा हमला करते हुआ कहा कि गोधरा में शामिल लोगों के सामने उन्हें देशभक्ति साबित करने की जरूरत नहीं है। सिद्धू ने बिलासपुर में कहा, ‘मैंने आधा सेकंड गले (पाक आर्मी चीफ को) लगा लिया तो क्या राफेल डील कर ली।’

छत्तीसगढ़ में चुनाव प्रचार के लिए पहुंचे पाकिस्तान आर्मी चीफ को गले लगाने के मुद्दे पर उठे विवाद को लेकर पीएम को फिर घेरते हुए सिद्धू ने कहा, ‘मैंने गले लगे लगा लिया क्या राफेल डील कर ली और वह (नरेंद्र मोदी) पीएम हैं इसलिए बिना बुलाए वहां (पाकिस्तान) चले जाएंगे। क्या पीएम को वहां (पाक पीएम इमरान खान के शपथ ग्रहण समारोह के बारे में) नहीं बुलाए जाने को लेकर जलन हो रही है? क्या उन्हें इस बात की जलन है कि वह पाकिस्तान (नवाज शरीफ का जन्मदिन पर) बिना न्यौते के गए। मैं अपनी देशभक्ति उन्हें साबित नहीं करूंगा जिन्होंने गोधरा करवाया।’

इसके अलावा एनडीटीवी से खास बातचीत के दौरान सिद्धू ने कहा कि विदेशों से 90 लाख करोड़ रुपये तो आए नहीं, उल्टे यहां के लोगों का पैसा निकाल लिया गया। उन्होने कहा, नीरव मोदी, विजय माल्या और मेहुल चौकसी जैसे लोगों का पैसा तो आया नहीं। आम लोगों का पैसा ले लिया गया। उन्होंने कहा कि नोटबंदी सरकार के लिए ‘झूठ बोले कौवा काटे’ साबित होगा।

modi in bhgw

सिद्धू ने कहा कि अकेले अडानी का एक लाख करोड़ रुपये का एनपीए है। सरकार ने 500 और 1000 का नोट बंद कर दिया और 2000 रुपये का नोट लाई। ये लोग ब्लैक मनी को पर्पल करना चाहते थे। सिद्धू ने आरोप लगाया कि बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह का अहमदाबाद में एक बैंक है, जिसका सालाना कारोबार 13 करोड़ रुपये भी नहीं है, उसमें 735 करोड़ रुपये जमा हुए। 22500 करोड़ रुपये ब्लैक से पर्पल कर लिया।

सिद्धू ने सीधे पीएम मोदी पर निशाना साधते हुए कहा कि पोस्टर्स पर पीएम का चेहरा इसलिये छोटा हो गया क्योंकि उनकी छवि धूमिल हो गई है। कहा कि करोड़ों रुपये खर्च करके सरदार पटेल की प्रतिमा बनाई गई, लेकिन किसानों का कर्ज माफ नहीं किया गया। सिद्धू ने कहा कि मनमोहन सरकार ने कच्चे तेल की कीमत चढ़ने पर भी तेल की कीमतें बढ़ने नहीं दीं लेकिन इस सरकार ने 40 डॉलर प्रति बैरल होने पर भी तेल की कीमतें कम नहीं की। सस्ते कच्चे तेल के दौर में इन्होंने रिलायंस पेट्रोल पंप को फायदा पहुंचाया।

नवजोत सिंह सिद्धू ने सवाल किया कि डीजल की कीमतें 15 गुना बढ़ गईं लेकिन किसान की एमएसपी उस अनुपात में क्यों नहीं बढ़ी। नवजोत सिंह सिद्धू ने कहा कि राहुल गांधी का चेहरा सबसे बड़े मुखौटे वाला चेहरा नहीं है। राहुल को तभी आंका जा सकता है जब वह पीएम बनें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles