यूपी में आगामी विधानसभा चुनावों में भारतीय जनता पार्टी की और से किसी भी मुस्लिम उम्मीदवार को टिकिट नहीं दिए जाने को लेकर पार्टी नेता शाहनवाज हुसैन ने कहा कि यूपी में एक भी मुसलमान जीतने लायक नहीं मिला इसलिए भाजपा ने विधानसभा चुनाव में किसी भी सीट से मुस्लिम प्रत्याशी नहीं उतारा.

भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता ने  403 विधानसभा सीट वाले यूपी में एक भी मुस्लिम को टिकिट न देने के पीछे जातिगत आधार पर टिकट बंटवारों को एक मज़बूरी के रूप में पेश करते हुए कहा कि पार्टी ने जाति के आधार पर टिकिट दिया हैं.

ऐसे में मुस्लिमों को टिकिट न देने पर उन्होंने कहा कि भाजपा में धर्म के आधार पर टिकट का बंटवारा नहीं होता. हालांकि जाति के आधार पर टिकिट देने की हो रही आलोचना पर उन्होंने कहा कि जब जाति के आधार पर आरक्षण दिया जा सकता है तो फिर पार्टी टिकट क्यों नहीं बांट सकती है.

गौरतलब रहें कि 2011 की जनगणना के अनुसार यूपी के संभल में 77.67, अमरोहा में 73.80, रामपुर में 50.57, मुरादाबाद में 46.79, बदायूं में 43.94, देवबंद में 71.06 और कैराना शहर में 80.74 प्रतिशत मुस्‍लिम रहते हैं. ऐसे में सवाल उठता हैं कि  403 विधानसभा सीट वाले यूपी में एक भी ऐसा मुस्‍लिम चेहरा नहीं हैं जिसे बीजेपी चुनाव मैदान में उतार सके.


शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

Loading...

कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें