हैदराबाद: मध्य प्रदेश में विधानसभा चुनाव समाप्त होने के साथ ही कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह एक बड़ी मुश्किल से घिरते हुए दिखाई दे रहे हैं। दरअसल, दिग्विजय सिंह के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी किया गया है। यह वारंट उनके खिलाफ दायर आपराधिक मानहानि मामले में अदालत के सामने उपस्थित नहीं होने पर जारी किया गया है।

दिग्विजय सिंह के खिलाफ यह केस असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी मजलिस-ए-इत्तेहाद-उल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) के जॉइंट सेक्रेटरी एसए हुसैन अनवर ने दायर कराया था। कोर्ट के आदेश के मुताबिक इस मामले की अगली सुनवाई 3 जनवरी 2019 को होगी।

Loading...

ANI से बातचीत के दौरान वकील असीम ने कहा कि  मेट्रोपॉलिटन कोर्ट के 8वें अतिरिक्त मुख्य नामपल्ली ने  दिग्विजय सिंह के खिलाफ गैर-जमानती वारंट जारी किया। उन्होंने कहा, ‘2016 में दिग्विजय सिंह ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा था कि AIMIM और पार्टी प्रमुख ओवैसी पैसों के लिए चुनाव लड़े।’

AIMIM के जॉइंट सेक्रेटरी हुसैन अनवर ने अपमानजनक बयान देने पर दिग्विजय सिंह के खिलाफ मानहानि का केस दायर किया था। दिग्विजय सिंह के अलावा हुसैन ने सियासत अख़बार के एडिटर  ज़ायेद अली खान के खिलाफ भी केस दायर किया था।

वहीं एनबीटी ऑनलाइन से बातचीत में दिग्विजय सिंह ने कहा कि अगर उनके खिलाफ यह वॉरंट जारी किया गया है तो वह सुनवाई के लिए कोर्ट जरूर जाएंगे।

शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें