बहुजन समाज पार्टी(बसपा) अध्यक्ष मायावती ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर तीखा हमला करते हुए कहा कि देश को बोलने वाला नहीं बल्कि काम करने वाले प्रधानमंत्री की जरुरत है. उन्होंने कहा कि बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने भी इस बात को स्वीकारा है कि नरेन्द्र मोदी बोलने वाले प्रधानमंत्री हैं.

उन्होंने कहा कि देश को बोलने वाला नहीं बल्कि काम करकेे दिखाने वाले प्रधानमंत्री की सख़्त ज़रूरत है ताकि महंगाई, बढ़ती हुई बेरोजगारी, गरीबी, शिक्षा एवं स्वास्थ्य के साथ-साथ कानून-व्यवस्था के मामले में अराजकता के अभिशाप से मुक्ति मिल सके.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

बसपा अध्यक्ष ने कहा कि स्वतंत्र भारत के इतिहास में यह पहला मौका है जब देश का प्रधानमंत्री सिर्फ एकतरफा अपनी बात कहने में विश्वास रखते हैं. सरकारी माध्यमों और संसाधनों का केवल अपने लिये इस्तेमाल करना पसंद करते हैं. सरकारी शक्ति का दुरुपयोग करके विपक्ष की बातों के साथ-साथ स्वतंत्र एवं निष्पक्षता को हर प्रकार से दबाने का प्रयास करते हैं.

उन्होंने कहा, भाजपा का कहना है कि उसने देश को बोलने वाला प्रधानमंत्री दिया है. मायावती ने कहा कि केवल बोलने वाले प्रधानमंत्री देश के गरीबों, मजदूराें, किसानों, बेरोजगार युवकों, छोटे तथा मझोले व्यापारियों की समस्यों का समाधान करने की बजाय उन्हें बढ़ा रहे हैं.

मायावती ने कहा कि कुछ इसी तरीके पर उत्तर प्रदेश की भाजपा सरकार भी चल रही है, जिसकी कथनी और करनी में बड़ी खाई जैसा अंतर है. खासकर अपराध-नियंत्रण और कानून-व्यवस्था के मामले में तो स्थिति लगातार बदतर होती जा रही है, क्योंकि खुद सत्ताधारी पार्टी के लोग हर प्रकार के अपराध में लिप्त पाए जा रहे हैं.

Loading...