शनिवार को मेरठ के नौचंदी मैदान में एक सभा को संबोधित करने पहुंचे आल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं हैदराबाद से सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने सलमानों से समाजवादी पार्टी का साथ छोड़ने की अपील की.

उन्होंने अखिलेश यादव की सीएम योगी से तुलना करते हुए कहा कि यादव और योगी की सरकार एक जैसी हैं. आवैसी ने कहा, आज तक समाजवादी पार्टी ने मुसलमानों को कोई इंसाफ नहीं दिलाया. मुजफ्फरनगर दंगा सपा सरकार के कार्यकाल में हुआ. इसके अलावा भी सबसे अधिक दंगे सपा सरकार के कार्यकाल में हुए.

रोहिंग्या मुसलमानों को भारत में शरण देने के मुद्दे पर भी ओवैसी ने कहा कि हमारे देश में बांग्लादेशी और तिब्बती को जब सहानुभूति के तौर पर शरण दी जा सकती है फिर रोहिंग्या मुसलमानों को इसे देने में क्या दिक्कत है. हालांकि ओवैसी ने हज सब्सिडी समाप्त करने पर केंद्र सरकार के फैसले का स्वागत किया.

उन्होंने कहा कि हज सब्सिडी देने के नाम पर जनता को धोखा दिया जाता था. उन्होंने कहा, सब्सिडी का फायदा इंडियन एअर लाइंस को मिलता था. वेे केंद्र सरकार से करीब 15 सालों से सब्सिडी खत्म करने की मांग कर रहे थे. दादरी में हुए अखलाक हत्याकांड के आरोपियों को एनटीपीसी में संविदा पर नौकरी दिलाने पर ओवैसी ने कहा कि जिन पर कत्ल का इल्जाम है उनको रोजगार दिलाया जा रहा है यह गलत है.

अयोध्या में धार्मिक मूर्ति लगाने पर ओवैसी ने कहा कि गुजरात दंगों के दौरान मस्जिदों और मदरसों में जो नुकसान हुआ. सुप्रीम कोर्ट ने जनता के पैसों से उसकी भरपाई करने से इंकार कर दिया. लेकिन भाजपा सरकार अयोध्या में 100 मीटर का राम मंदिर बनाने की तैयारी में है. उन्होंने सरकार से सवाल किया राम मंदिर निर्माण में वो पैसा कहां से लगा रहे हैं.

कोहराम न्यूज़ को सुचारू रूप से चलाने के लिए मदद की ज़रूरत है, डोनेशन देकर मदद करें




Loading...

कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें