सीट बंटवारे के बाद बोले नीतीश कुमार – 2019 का चुनाव राम मंदिर पर नहीं बल्कि विकास पर होगा

nitish speaking 4

बिहार में 2019 के लोकसभा चुनाव के लिए एनडीए में सीटों का बंटवारा हो गया है। जिसके अनुसार, बीजेपी, जेडीयू 17-17 और एलजेपी 6 लोकसभा सीटों पर चुनाव लड़ेगी। इसी बीच बिहार के मुख्यमंत्री और एनडीए घटक दल के प्रमुख नीतीश कुमार ने इस मामले पर बड़ा बयान दिया है।

नीतीश कुमार ने कहा है कि राम मंदिर का मसला आपसी बातचीत या फिर कोर्ट के जरिए हल किया जाना चाहिए। उन्होने कहा कि ”हमारी राय है कि राम मंदिर के मामले को कोर्ट के फैसले के द्वारा ही हल किया जाना चाहिए।” इस मौके पर नीतीश ने बिहार के विकास के प्रति गठबंधन को प्रतिबद्ध बताया। उन्होंने कहा कि हम बिहार के विकास के लिए प्रतिबद्ध हैं।

बिहार सीएम ने कहा, ‘हम बिहार में अच्छी सफलता हासिल करेंगे। मुझे जरूरत से ज्यादा बोलने की आदत नहीं है। 2009 में बिहार में बीजेपी और जेडीयू का गठबंधन था, बिहार में 40 में से 32 सीटें हमने हासिल की थीं। 2009 से भी ज्यादा सीटों पर जीतेंगे। हम लोग मिलकर सशक्त अभियान चलाएंगे।’

इसके अलावा अमित शाह ने रामविलास पासवान को राज्यसभा भेजने की भी घोषणा की। बता दें कि हाल ही में अमित शाह की मुलाक़ात रामविलास पासवान और उनके बेटे चिराग पासवान से हुई थी। चिराग पासवान ने इस मुलाक़ात के बाद कहा था कि सीटों की घोषणा जल्द ही होगी।

चिराग ने हाल ही में बीजेपी को सीटों के बँटवारे को लेकर 31 दिसंबर तक का अल्टीमेटम दिया था। उपेंद्र कुशावहा के एनडीए से बाहर निकलने के बाद पासवान के भी एनडीए छोड़ने के क़यास लगाए जा रहे थे

विज्ञापन