Wednesday, July 28, 2021

 

 

 

नोट बंदी का समर्थन करने वाले नितीश कुमार ने पुछा, सरकार बताये की कितना कालाधन आया बाहर

- Advertisement -
- Advertisement -

पटना | बिहार के मुख्यमंत्री और नोट बंदी के बाद मोदी सरकार के नजदीक आये नितीश कुमार ने आज पेश किये आम बजट को बोरिंग करार दिया है. उन्होंने रेल बजट पर भी प्रतिक्रिया देते हुए कहा की मोदी सरकार में रेलवे का बंटाधार हो चूका है. नितीश ने नोट बंदी के बारे में बोलते हुए कहा की सरकार ने यह नही बताया की नोट बंदी से कितना कालाधन बाहर आया है.

वित्त मंत्री अरुण जेटली के आम बजट पेश करने के बाद , बिहार के मुख्यमंत्री नितीश कुमार ने कहा की इस बजट में नारों के अलावा कुछ नही है. बजट भाषण बेहद ही बोरिंग था और इससे देश की अर्थव्यवस्था को कोई फायदा नही होने वाला. इस बजट में अर्थव्यवस्था के लिए कोई उम्मीद नही है. बजट से साफ़ हो गया है की आने वाले समय में केवल नारों की गूंज की होगी.

नोट बंदी का बजट में जिक्र न होने पर नितीश ने कहा की चूँकि मैंने नोट बंदी का समर्थन किया था तो मुझे जानने का हक़ है की नोट बंदी के फैसले से कितना कालाधन बाहर आया? लेकिन वित्त मंत्री जी ने अपने बजट भाषण में इसका कही जिक्र नही किया. न ही उन्होंने यह बताया की नोट बंदी के बाद कितना धन बैंकों में जमा किया गया और इसमें कितना नकली नोट बैंक में जमा हुआ?

प्रधानमंत्री मोदी द्वारा बिहार को 1.65 लाख करोड़ का पैकेज देने के वादे को याद दिलाते हुए नितीश ने कहा की मोदी जी के वादे के बाद भी बिहार को न पैकेज मिला और न ही विशेष राज्य का दर्जा. इस बजट में बिहार के साथ अन्याय किया गया. कैशलेस इकॉनमी पर नितीश ने कहा की हमारे देश में यह संभव नही है क्योकि देश की आधारभूत संरचना ऐसी है की यह पुरे देश में लागु नही की जा सकती.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles