Sunday, October 24, 2021

 

 

 

पूर्णिया रैली में नीतीश कुमार का ऐलान – ये मेरा अंतिम चुनाव, अब बताइए कि वोट देंगे कि नहीं

- Advertisement -
- Advertisement -

नई दिल्ली: बिहार विधानसभा चुनाव के लिए 7 नवंबर को तीसरे व अंतिम चरण के लिए मतदान से ठीक पहले बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने इमोशनल कार्ड खेलते हुए पूर्णिया में गुरुवार को कहा, ‘ये मेरा आखिरी चुनाव है। अंत भला तो सब भला। अब आप बताइए कि वोट देंगे कि नहीं।’

जनता को लुभाने के लिए उन्होने कहा कि रोजगार के लिए युवाओं को राज्य से बाहर जाने से रोकने के लिए उनकी सरकार ने नई औद्योगिक नीति तैयार की है जिसके परिणाम आने वाले दिनों में सामने आयेंगे। उन्होने दावा किया कि उनकी सरकार में हर तबके को मुख्यधारा में लाने का काम किया गया। हर जाति और वर्ग के लोगों के लिए काम किया गया। महिलाओं के लिए विशेष तौर पर कार्य किए गए।

उन्होंने कहा कि पहले महिलाओं को लोग कुछ समझते नहीं मगर हमारा कहना है कि पुरुष और महिलाएं मिलकर काम करेंगी तभी समाज आगे बढ़ेगा। जेडीयू नेता ने कहा कि उनकी सरकार में नगर निकाय और पंचायती राज संस्थानों में महिलाओं को पचास फीसदी आरक्षण दिया गया।

राजद नेता तेजस्वी यादव के युवाओं को 10 लाख रोजगार देने के वादे पर पलटवार करते हुए नीतीश कुमार ने कहा कि कुछ लोगों को समझ में कुछ नहीं आता और ऐसे लोग काम भी नहीं करते, केवल जुबान चलाते हैं। उन्होंने कहा, ‘किन हालात में बिहार के लोगों ने 2005 में हमें काम करने मौका दिया, यह किसी से छिपा नहीं है। तब स्कूल में पढ़ाई, अस्पताल में दवाई का प्रबंध नहीं था। शाम के बाद लोग घर से निकलने में डरते थे।’

कुमार ने कहा ‘लालटेन युग के बाद हमें मौका मिला तो हमने बिजली सेवा में सुधार किया। 2018 के अक्टूबर में ही हमने हर घर में बिजली पहुंचाई। सिंचाई के लिए बिजली की व्यवस्था करने के साथ ही घर-घर शौचालय का निर्माण कराया गया।’ मुख्यमंत्री ने अपने संबोधन के दौरान अल्पसंख्यकों के कल्याण के लिये उनकी सरकार द्वारा किये गए कार्यों का भी उल्लेख किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles