उद्योगपति राहुल बजाज के बयान पर वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने रविवार को ट्वीट कर इस पर अपनी प्रतिक्रिया दी है। उन्होने कहा कि राहुल बजाज ने जिन मुद्दों को उठाया, उसका जवाब गृह मंत्री अमित शाह ने दिया. सवाल हों या आलोचनाएं हो सबको सुना जाता है, उनका उत्तर दिया जाता है, उसे रेखांकित किया जाता है।

सीतारमण ने ट्वीट किया, राहुल बजाज ने जिन मुद्दों को उठाया, उसका जवाब गृहमंत्री अमित शाह ने दे दिया है। सवाल हों, आलोचनाएं हों सबको सुना जाता है, उनका जवाब दिया जाता है, उसे रेखांकित किया जाता है। सीतारमण ने लिखा कि अपनी धारणा फैलाने की जगह जवाब पाने के और भी बेहतर तरीके हैं। ऐसी बातों से राष्ट्रीय हित को चोट पहुंच सकती है।

वहीं केंद्रीय मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने ट्वीट करते हुए लिखा, ‘राहुल बजाज गृहमंत्री अमित शाह के सामने खड़े हो सकते हैं, बिना किसी डर के अपनी बात रख सकते हैं और दूसरों को उनके साथ जुड़ने के लिए संकेत दे सकते हैं तो इसका सीधा सा मतलब है कि भारत में अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता और लोकतांत्रिक मूल्य जीवित और समृद्ध हैं। यही लोकतंत्र है।’

इस पर कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री कपिल सिब्बल ने कहा, ‘क्या सरकार की प्रशंसा करने में राष्ट्रहित निहित है।’ सिब्बल ने कहा, ‘राहुल बजाज ने इंडस्ट्री को सरकार की आलोचना से डर, लिंचिंग के खिलाफ प्रभावी कार्रवाई न होना, नाथूराम गोडसे की तारीफ की आलोचना की थी। इस पर निर्मला सीतारमण ने कहा कि राहुल बजाज की आलोचना राष्ट्रीय हित को चोट पहुंचा सकती है। क्या आपकी प्रशंसा करने में राष्ट्रहित निहित है।’

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मिलिंद देवड़ा ने ट्वीट किया, ‘मैं राहुल बजाज को हमेशा से ही गैर राजनीतिक, प्रखर राष्ट्रवादी और बहुत ईमानदार व्यक्ति के रूप में जानता हूं। उनकी कल की टिप्पणी उसी के अनुरूप है जो एमएसएमई, बैंकर और उद्योगपति मुझे बता रहे हैं कि अगर कारोबारी भावना जल्द नहीं सुधरी तो सबसे बुरा समय आ जायेगा।’

Loading...
लड़के/लड़कियों के फोटो देखकर पसंद करें फिर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

 

विज्ञापन