Friday, July 23, 2021

 

 

 

मोदी सरकार ने ‘जनधन गबन’ योजना के तहत माफ कर दिया नीरव-मेहुल का लोन: कासमी

- Advertisement -
- Advertisement -

भोपाल: मध्य प्रदेश कांग्रेस सचिव मौलाना उमर कासमी ने 50 बड़े विलफुल डिफाल्टर्स के 68,607 करोड़ रुपए के कर्ज की बड़ी राशि को बट्टा खाते में डाल देने को लेकर मोदी सरकार की आलोचना की।

उन्होने कहा कि विजय माल्या, नीरव मोदी, मेहुल चौकसी और जतिन मेहता जैसे बड़े घोटालेबाजो के लिए मोदी सरकार ने ‘जनधन गबन’ योजना शुरू कर दी है। जिसके तहत घोटाला का बेंकों से लोन लो, देश छोड़ फरार हो जाओ और फिर आखिर में सरकार खुद लोन माफ कर देगी।

कांग्रेस सचिव ने कहा कि संसद में मोदी सरकार ने देश के 50 सबसे बड़े बैंक चोरों के नाम बताने से इंकार कर दिया था। अब उन चोरों का घोटाला आरबीआई ने माफ कर दिया।

उन्होने कहा कि कोरोना महामारी के नाम पर मोदी सरकार कर्मचारियों के महंगाई भत्ते तथा राहत भत्ते को रोक रही है। देश की महिलाओं से मदद के लिए गहने मांग रही है। स्कूल में छात्रों से पैसे मांगे जा रहे है। तो दूसरी तरफ अपने घोटालेबाज मित्रों के लिए देश की तिजोरी को खाली किया जा रहा है।

कासमी ने कहा कि सरकार के मुखिया की सहमति के बिना ये काम संभव नहीं है इसलिए प्रधानमंत्री मोदी को देश की जनता को बताना चाहिए कि सरकार ने यह कर्ज क्यों और किस आघार पर माफ किया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles