Sunday, June 20, 2021

 

 

 

मुसलमानों की बात करने पर लोगों के पेट में दर्द क्यों होता हैं – ओवैसी

- Advertisement -
- Advertisement -

asaduddin-owaisi_650x400_61452171771

ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तिहादुल मुसलमीन (एआईएमआईएम) के प्रमुख और हैदराबाद से लोकसभा सांसद असदउद्दीन ओवैसी ने बीजेपी द्वारा नोटबंदी के जरिये मुसलमानों को परेशान करने वाले अपने बयान पर कहा कि “मैं आरबीआई की रिपोर्ट, वर्ल्ड बैंक की रिपोर्ट के आधार पर दावे के साथ कह रहा हूँ कि मुसलमानों को जान-बूझकर बैंकिंग सिस्टम से अलग रखा गया है.”

ओवैसी के साथ पूरा फ़ेसबुक लाइव का वीडियो यहाँ देखें.

बीबीसी से बातचीत में उन्होंने कहा, “मैं जो भी कह रहा हूँ पक्की रिपोर्टों के आधार पर कर रहा हूँ. आप हैदराबाद, औरंगाबाद या पुरानी दिल्ली में जाकर देख लीजिए, वहाँ एटीएम में पैसा है या नहीं..”

उन्होंने कहा, “मैं हिंदुस्तान के मुसलमानों की बात कर रहा हूँ तो किसी के पेट में दर्द क्यों होता है, मैं पाकिस्तान की बात तो नहीं कर रहा, आईएस की बात तो नहीं कर रहा…दलित, सिख, मराठा, यादव की बात पर एतराज़ नहीं है…मुसलमान की बात पर एतराज़ क्यों?”

उन्होंने प्रधानमन्त्री नरेन्द्र के बारे में कहा कि  “मोदी में मुझे कुछ भी अच्छा नहीं लगता.” उन्होंने कहा, “हिंदुस्तान के बादशाह सलामत ने भिखारी बना दिया…..120 लोग मारे गए अपना पैसा निकालने के लिए, इसमें कोई अच्छी बात दिखती है? उनकी एक ही बात अच्छी लगती है कि वे विदेश खूब घूमते हैं.”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles