नेशनल कांफ्रेंस के नेता पूर्व सीएम उमर अब्दुल्ला ने अफसोस जताते हुए कहा कि पीएम नरेंद्र मोदी ने ‘मन की बात’ में जम्मू-कश्मीर के हालात का जिक्र तक नहीं किया. उमर अब्दुल्ला ने ट्विटर पर लिखा, ‘काश प्रधानमंत्री मोदी को मेरे राज्य के लिए आश्वस्त करने वाले गिने-चुने शब्द ही मिल जाते।

उमर ने ट्वीटर पर लिखा, ‘‘काश प्रधानमंत्री को मेरे राज्य के लिए आश्वस्त करने वाले गिने-चुने शब्द ही मिल जाते। राज्य में अब तक लगभग 50 लोगों की मौत हो गई है जबकि अनगिनत घायल हैं।’ कश्मीर में सुरक्षा बलों एवं प्रदर्शनकारियों के बीच झड़पों में अब तक करीब 50 लोगों की मौत हो गई है, और लगभग 5,600 लोग घायल हैं।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

पूर्व सीएम उमर अबदुल्ला ने मुख्यमंत्री महबूबा पर भी हमला बोलते हुए कहा कि  ‘उनके नेतृत्व के साथ परेशानी यह है कि उनकी गलती तो कभी होती नहीं है, दोषारोपण हमेशा दूसरों पर होता है। एक इंटरव्यू में सीएम मुफ्ती महबूबा ने कहा था, ‘एेसी कई ताकतें साथ आ गई हैं जो माहौल को बिगाड़ना चाहती हैं। वे बच्चों को भेजकर परेशानी खड़ी करना चाहते हैं। इसको लेकर उमर ने पूछा कि, ‘‘मुझे समझ नहीं आ रहा कि सीएम परीक्षा केंद्र पर क्या करने गई थीं?