अपने विवादित और भड़काऊ बयानों को लेकर चर्चा मे रहने वाले भाजपा के विधायक टी. राजा ने एक बार फिर विवादित बयान दिया है। उन्होंने इफ्तार पार्टी का आयोजन करने वालों को वोटो का भिखारी कहा है.

हैदराबाद के गोशामहल विधानसभा सीट से विधायक लोध ने कहा कि उनके एक मित्र ने उन्हें इफ्तार पार्टी का आयोजन करने का सुझाव दिया जैसा कि रमजान के महीने में अन्य नेता करते हैं. उन्होंने कहा, ‘‘ इन दिनों तेलंगाना के अनेक विधायक सिर पर टोपी लगा कर सेल्फी लेते हुए इफ्तार पार्टी का आयोजन करने में मशगूल हैं. वे सोचते हैं कि अगर उन्हें वोट बैंक की राजनीति करनी है तो उन्हें ‘सबका साथ, सबका विकास’ के बारे में सोचना होगा.’’

विधायक ने कहा, ‘‘ यह उनकी सोच है, जो उनके साथ बैठते हैं (इफ्तार पार्टी में) वे वोट के भिखारी हैं. मेरी सोच अलग है.’’ सिंह ने कहा कि उनका हिंदू धर्म सबका आदर करने की शिक्षा देता है. उन्होंने कहा, ‘‘लेकिन कुछ धर्म और उनकी धार्मिक पुस्तकें हिन्दुओं को कॉफिर बताते हुए उन्हें मारने की शिक्षा देती हैं. जो हिन्दुओं को मारने की बात करते हैं, उनके लिए मैं कैसे इफ्तार पार्टी दे सकता हूं अथवा इफ्तार पार्टी में शामिल हो सकता हूं.’’

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

उन्होंने कहा कि जब उनके एक दोस्त ने इस पर आपत्ति उठाई और इसका सुबूत मांगा तो उन्होंने कहा कि ‘ग्रीन बुक’ में इसका जिक्र है. विधायक ने कहा, ‘‘ यह ग्रीन बुक भारत में आतंकवाद फैलाने के लिए जिम्मेदार है और इसे प्रतिबंधित किया जाना चाहिए. मैं इसे प्रतिबंधित करने के लिए संघर्ष करता रहूंगा.’’

बीजेपी विधायक के इस बयान पर एक यूजर ने सवाल किया कि इफ्तार का आयोजन तो बीजेपी मे भी किया जा रहा है। क्या वे सभी भी वोट के भिखारी है। बता दें देश के कई राज्यों कि बीजेपी सरकार ने इफ्तार का आयोजन किया है।

Loading...